फ्रीलासिंग क्या है, कैसे करें? | Freelancing Jobs in Hindi

बॉस की चिक-चिक आखिर किसे पसंद होती है…?
आजकल इंटरनेट का ज़माना है और करीब-करीब हर जगह और हर इंडस्ट्री में इंटरनेट और कंप्यूटर्स का इन्डल्जन्स हैं।
 
 
A woman writing on her computer with her feet kept on desk

 

 
टेक्नॉलॉजिकल अड्वान्समेंट्स ने काम को बहुत ज्यादा फ्लेक्सिबल बना दिया है और अब पहले की तरह ऑफिस जाकर काम करने की कोई खास जरूरत नहीं रह गई है क्योंकि अब हमारे पास डाटा और रिसोर्सेज को इंटरनेट के जरिए दुनिया में कहीं से भी एक्सेस करने की आजादी है।
 
 
आज अगर आप चाहें तो घर बैठे काम करते हुए अच्छा-खासा पैसा कमा सकते हो।
 
 
इसके लिए आपको जरूरत है तो बस एक कंप्युटर सिस्टम और नेटवर्क कनेक्शन की। इसके अलावा अच्छा रहेगा अगर आपके पास कोई खास स्किल हो (जैसे- आपको लिखने का शौक हो, या फिर पेंटिंग करने का, या फिर आपको इंटरनेट के बारे में अच्छा knowledge हो) यह आपको freelancing में काफी दूर तक ले जाने में सहायक साबित होगा।
 
 
बिल्कुल भी परेशान ना हों अगर खुद में किसी खास प्रोफेशनल स्किल की कमी लगे। आप फ्रीलानसिंग फिर भी कर सकते हैं। यकीन मानिए समय के साथ आप खुद को निखरता हुआ पाएंगे।
 
 
चलिए जानते हैं फ्रीलानसिंग क्या/क्यों और कैसे के बारे में, विस्तार से…. 
 

फ्रीलानसिंग हिन्दी में | WHAT IS FREELANCING JOBS, MEANING, WRITING IN HINDI

 
 

1). फ्रीलानसिंग क्या है? | What is Freelancing in Hindi

 
बहुत ही आसान शब्दों में कहें तो “फ्रीलानसिंग” बिना ऑफिस जाए काम करने का तरीका है जिसमें आप घर बैठे अपने लिए काम ढूंढते हैं और उसे करते हैं। यह एक जॉब से काफी अलग है। इसमे आपको महीने का सैलरी नहीं मिलती है बल्कि आप जितना काम करते हैं उसके हिसाब से आपकी इंकम होती है। 
 
 
इसे एक दुकान के जैसा मान लीजिए, आपकी जब इच्छा करें आप दुकान पे जा सकते हैं और जब कुछ काम पड़े तो अपनी मर्जी से काम बंद कर सकते हैं। इसी तरह फ्रीलानसिंग में अगर आपको किसी दिन लगता है कि आज काम करने का मूड नहीं है तो आप बिना किसी से पूछे काम बंद कर सकते हैं जबकि जॉब में ऐसा पॉसिबल नहीं है।
 
 
शाब्दिक तौर पर देखें तो Freelancing में FREE का अर्थ होता है- आजाद होना और LANCER का मतलब होता है- एक खास व्यक्ति। तो इस तरह से देखें तो फ्रीलांसर एक ऐसा व्यक्ति होता है जो फ्री होके काम करता है। 
 
 

2). फ्रीलानसर कौन बन सकता है? (Freelancer in Hindi)

 
आप में से कई लोगों को लग सकता है कि फ्रीलांसर बनने के लिए आपके पास कोई विशेष कौशल या फिर किसी विशेष क्षेत्र में कोई academic certification होना चाहिए। मगर ऐसा नहीं है…
 
 
“फ्रीलानसिंग कोई भी ऐसा व्यक्ति कर सकता है जिसे कोई ऐसा काम करना आता हो जिसकी जरूरत किसी दूसरे व्यक्ति को है।”
 
 

चलिए इस बात को एक उदाहरण के माध्यम से और अच्छे से समझने का प्रयास करते हैं… मिसाल के तौर पर मान लेते हैं आपको बहुत अच्छी Drawing करनी आती है और किसी व्यक्ति को आपसे अपना sketch बनवाना है तो वो आपको अपनी तस्वीर इंटरनेट के जरिए भेज सकता है और आप उसका स्केच बनाकर उसे उचित मूल्य चार्ज करके उसे भेज सकते हैं। यही फ्रीलानसिंग है।
 
 
इसी तरह अगर किसी को विडिओ एडिटिंग, कंटेन्ट राइटिंग या कुछ भी और काम करवाना है तो आप उसे कर सकते हैं और ऑनलाइन जरिए से उसका आदान-प्रदान कर सकते हैं और पैसे भी कमा सकते हैं।
 
 

3. फ्रीलानसिंग जॉब्स (Freelancer Jobs in Hindi)

 
फ्रीलानसिंग में बहुत सारे काम होते हैं जिनमें से मुख्य काम इस प्रकार हैं जिनकी मांग आजकल काफी अधिक है-
 
 
1. कंटेन्ट राइटिंग (Content Writing)
 
 
 
3. विडिओ एडिटिंग (Video Editing)
 
 
4. सोशल मीडिया मार्कटर (Social Media Marketer)
 
 
5. वेब डिज़ाइनिंग (Web Designing and WebDev)
 
 
6. अकाउंटिंग (Accounting)
 
 
7. ग्राफिक डिजाइनिंग (Graphic Designing)
 
 
8. डाटा एंट्री (Data Entry)
 
 
9. कन्सल्टन्सी (Consultancy)
 
 
10. ऐप डेवलपमेंट (App Development)
 
 
 

5). फ्रीलानसिंग कैसे करें? (How to Start Freelancing in Hindi)

 
फ्रीलानसिंग शुरू करना काफी आसान है ये कुछ स्टेप्स हैं जिन्हें आपको करना है…
 
 
1. सबसे पहले कई फ्रीलानसिंग साइट्स पर अकाउंट बना दें (जैसे- fiverr, upwork) या फिर आप फ़ेसबुक ग्रुप भी जॉइन कर सकते हैं और उसके द्वारा भी काम पा सकते हैं
 
 
2. इसके बाद अपना profile आपको बहुत ही अच्छे ढंग से सेट करना है.. उसमें आपके पास जिस तरह की स्किल्स हैं उनको showcase करना है
 
 
3. इसके बाद आपको BID लगानी है या फिर post कर देना है जो भी काम आप कर सकते हैं अपने rate और experience के साथ…
 
 
बस हो गया… शुरुआत में freelancing sites पे काम पाना काफी मुश्किल होता है क्युकी वहाँ बहुत ज्यादा प्रतिस्पर्धा है इसलिए अगर आपको काम मिलने में दिक्कत होती है तो निराश ना होये आप अपने काम से संबंधित फ़ेसबुक ग्रुप्स पर जाएँ वहाँ पर आपको निराशा नहीं होगी 😉
 
 

6). घर बैठे काम करने की साइट्स (Top/best Freelancing Sites in Hindi)

 
ये कुछ साइटें हैं जिनसे आप घर बैठे फ्रीलानसिंग का काम ढूंढ सकते हैं… इनपे अपना प्रोफाइल जरूर बनाएँ।
 
 
 
3. Guru
 
 
 
 
7. Facebook Groups
 

 

7). फ्रीलांस कंटेन्ट राइटिंग (Freelance Content Writing)

 
वेबसाइट्स, मैगजीन्स आदि को Text Content की हर टाइम जरूरत रहती ही है इसलीये अगर आपको अच्छा लिखना आता है तो आप फ्रीलांसर के तौर पर लिखकर भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं..
 
 
कंटेन्ट राइटिंग कैसे करें पर हमने already एक आर्टिकल लिखा है आप उसे यहाँ पर जाकर पढ़ सकते हैं।
 


8). कौन बेहतर है: जॉब या फ्रीलानसिंग (Which is better: Job vs Freelancing)

 
हर किसी की चॉइस अलग-अलग हो सकती है लेकिन ज्यादातर केस में लोगों को जॉब कम ही पसंद होती है और इसका सबसे बड़ी वजह है- जॉब में कम आजादी होना। 
 
 
फ्रीलानसिंग में आप अपने खुद के बॉस होते हैं इसलिए हो सकता है पैसा थोड़ा कम आए मगर फ्रीडम बहुत ज्यादा होती है. मुझे पर्सनली फ्रीलानसिंग काफी पसंद है।

 

ℹ️  AUTHORS’ ANGLE: 


फ्रीलानसिंग की सबसे शानदार बात इसकी flexibility है। आप कहीं पर भी रहकर कभी भी काम कर सकते हैं और चाहें तो कुछ समय के लिए काम को होल्ड पर भी रख सकते हैं।

 
 

तो दोस्तों यही था “घर बैठे काम करने पर फ्रीलानसिंग/ Work From Home Freelancing” पर यह लेख पसंद आया होगा। पर हमारी आज की पोस्ट। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें comment के माध्यम से जरूर बताएं और आपका कोई सवाल हो तो उसे भी जरूर पूछें। हमसे facebook पर जुड़ें ताकि आपको नई post की update मिलती रहे। 

📚 READ MORE POSTS: 


• ब्लॉगिंग क्या है और इससे पैसे कैसे कमाते हैं?

   


Navin Rangar

I write here.

Leave a Reply

Your email address will not be published.