बन्दरों पर एक मज़ेदार कविता.

 बन्दरों पर एक प्रेरणादायक कविता

Insipirational Poem on Monkeys in Hindi

Bandaro Par Insipirational Hindi Poem.

• नमस्कार दोस्तों,
स्वागत है आपका Sochokuchnaya.blogspot.com (SKN)  में.
• आज से मैं अपने इस ब्लॉग SKN पर हिन्दी कविताएं (Hindi Poems) भी publish करूंगा। जो मैंने खुद बनाई हैं।
आज की यह कविता मैंने लगभग 1 साल पहले लिखी थी। मेरे कमरे के आस-पास (चम्बा, टिहरी गढ़वाल, उत्तराखंड में) बहुत सारे बन्दर रहते हैं; जिनसे लोग अच्छा behave नहीं करते हैं। इसलिए मैंने यह कविता लिखी… तो चलिए पढ़ते हैं यह कविता: 
• Power Tippy : इस कविता को ध्यान से, धीरे-धीरे पढ़ें और भाव की गहराई में जाइए। मज़ा आएगा..

  ० बन्दर मामा बड़े-बड़े…

🐒 • बन्दर मामा बड़े-बड़े
          रेलिंग के ये ऊपर चढे
                                    
•  और बन्दर साथी जब आए
   तो ये छत में ऊधम मचाये।
•  मकान मालिक तब ऊपर आया
   पत्थर मार के उन्हें भगाया।

•  लगे बन्दर तब खूं-खूं करने 
   गए वो अपने घर को मरने।

•  दया नाम की चीज़ न कोई
   सब करते हैं मोही-मोही।

•  यह तो हमारा स्वभाव ही है दोस्तों
   दूसरों के घर में खुद को ठूंस दो।

•  कूड़े में डाल देंगे खाने को मगर
    बन्दरों को ना दे पाएंगे।

•  ये साले तो काट देंगे हमको
   इसका बहाना बनाएंगे।

•  यहां से वहां और वहां से यहां उन्हें भगाएँगे
   वो बेचारे भी  कहाँ-कहाँ तो जाएंगे।

• इतना भाग-भाग कर कहीं
  वो मर तो नहीं जाएंगे।

•  और अगर ऐसा हुआ तो फिर
   हम भी नहीं जी पाएंगे ! 🐒

• Read Recommanded: 

• सोचिये और फिर करिये, दुनिया से ज़रा हटके

• एक कहानी: बुरी आदतों को अच्छा बनाने की

• 💡 पढ़ाई में मन लगाने का एक Natural तरीका

👉• अगर आपका इस Poem से related कोई भी सवाल (query), सुझाव (suggestion)या प्रसंशा (Appriciation) है तो हमें नीचे दिए गए comment box पे  email डालकर बताएं. आपको जल्दी ही response दे दिया जायेगा!

० मैं फिर लौटूंगा; अपनी कुछ खट्टी-मीठी research के साथ.  उनका update जल्दी पाने के लिए हमारा blog SochoKuchNaya subscribe करे।

• मिलते हैं अगले article में..✋

                   🔰 ” नवीन सिंह रांगड”

                      (Poet & Blogger @SKN)
  



Navin Rangar

I write here.

3 thoughts on “बन्दरों पर एक मज़ेदार कविता.

  • July 2, 2018 at 3:17 pm
    Permalink

    Vaise aapko kyu lgta h ki mai SEO nhi krta?

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.