Top Ad

माइक्रोनिच ब्लॉग क्या होता है? कैसे बनाएँ? | MicroNiche Blogging in Hindi (2020)

अगर आपको blogging करते हुए काफी समय हो गया है तो आपने माइक्रोनिच (Microniche Blogging) के बारे में तो जरूर सुना होगा।


आजकल हर तरह की ब्लॉगिंग में competition बहुत ज्यादा बढ़ गया है चाहे वो technical blogging हो, fashion blogging हो या फिर travel रिलेटेड ब्लॉगिंग हो, काम्पिटिशन के कारण गूगल में अपने ब्लॉग को rank करा पाना और उससे पैसे बना पाना बहुत ही ज्यादा कठिन हो गया है।


this pic is about microblogging information in hindi language


इसलिए आजकल बहुत सारे ब्लॉगर (जिनमें Harsh Agrawal और Anil Agrawal जैसे प्रतिष्ठित ब्लॉगर्स भी शामिल हैं) competitive terms के लिए गूगल में जल्दी-से rank करने के लिए और कम समय में काफी अच्छा पैसा कमाने के लिए एक खास तरह की ब्लॉगिंग का प्रयोग करते हैं, जिसे हम "Microniche Blogging" कहते हैं।


क्या है ये माइक्रोनिचे ब्लॉगिंग और कैसे आप भी माइक्रोनिच ब्लॉगिंग करके पैसे कमा सकते हो, इस आर्टिकल में हमने इसी चीज के बारे में बात की है-



माइक्रोनिच ब्लॉगिंग के बारे में पूरी जानकारी हिन्दी में/What is Microniche Blogging in Hindi







1). माइक्रोनिच ब्लॉगिंग क्या होती है? (What is Microniche Blogging meaning):

'माइक्रो' मतलब होता है छोटा और 'निच' का मतलब होता है टॉपिक या फिर काम करने का एरिया।


यानि कि जो ब्लॉग किसी बहुत ही छोटे या फिर कहें बहुत ही specific/targeted topic पर based होता है उसे "Microniche Blog" कहा जाता है।


सरल शब्दों में कहें तो,



माइक्रोनिच ब्लॉगिंग एक खास तरह की ब्लॉगिंग है जिसमें एक बहुत ही छोटे टॉपिक पर ब्लॉग बनाया जाता है जिसकी गूगल में rank करने की संभावना broad topic वाले ब्लॉग्स के मुकाबले ज्यादा होती है।



जैसे कि "Shoes" एक निच है इसपे ब्लॉगिंग की जा सकती है। अब अगर कोई आदमी शूज निच के भी अंदर के टॉपिक पर ब्लॉग बना लेता है, जैसे- Mens Shoes, Formal Shoes तो इन ब्लॉगों को 'Microniche Blog कहा जाएगा।









+MICRONICHE BLOG EXAMPLES-

टेक्नॉलजी के अंतर्गत कुछ इस प्रकार के माइक्रोनिच ब्लॉग बनाए जा सकते हैं- OffPageSEO, Backlinks, MakeMoneyOnline, etc.


फाइनेंस पर कुछ इस तरह के माइक्रोनीच ब्लॉग्स बनाए जा सकते हैं- sharemarket, mutualfunds, investment, etc.





2). माइक्रोनिच ब्लॉगिंग की अहमियत (Importance of Microniche Bloggin):

कम समय में जल्दी-से गूगल में rank करने के लिए Microniche Blogging बहुत ही ज्यादा जरूरी है।


गूगल उन ब्लॉगों को सर्च रिजल्ट्स में ज्यादा अच्छा rank देता है जो कि एक ही topic के बारे में लिखते हैं क्योंकि इससे जाहीर होता है कि वे उस topic के एक्सपर्ट हैं।


और अब क्योंकि माइक्रोब्लॉग्स भी एक ही टॉपिक पर बनें होते हैं इसलिए इनके बारे में भी गूगल ऐसा ही सोचता है, जिसके कारण वह इन्हें SERPs में काफी ज्यादा priority देता है।


कई रिसर्चों में यह साबित हो चुका है कि Microniche Blog किसी normal blog की तुलना में गूगल में जल्दी से रैंक करते हैं। अगर आपको किसी बहुत ही ज्यादा competitive space में रैंक करना है (जैसे- SEO, Digital Marketing) तो इस काम में माइक्रोनिच ब्लॉग बनाना आपके लिए फायदे मंद हो सकता है।









3). माइक्रोनिच ब्लॉग बनाने के फायदे (Microniche Blog Benefits):

माइक्रोनीच ब्लॉग बनाने के बहुत सारे benefits होते हैं जिनमें से कुछ प्रमुख बेनेफिट्स कुछ इस प्रकार हैं-


1. माइक्रोनीच ब्लॉग गूगल और अन्य सर्च इंजनों में broad niche ब्लॉग्स के मुकाबले काफी जल्दी रैंक कर जाते हैं।


2. माइक्रोनीच ब्लॉग में विजिटर्स बहुत जल्दी ही loyal visitors बन जाते है। यानि कि आपकी माइक्रोनीचे वेबसाइट पर आने वाले बहुत सारे लोग बहुत जल्दी आपके regular visitors बन जाते हैं।


3. माइक्रोनिच ब्लॉग में Conversion rate काफी ज्यादा होता है। यानि यह काफी आसान होता है कि आप लोगों के email कलेक्ट कर सकें या उन्हें अपनी कोई service बेच सकें।


4. माइक्रोनिच ब्लॉग में पैसा कमाना काफी आसान होता है। इसके अलावा माइक्रोब्लॉगिंग के द्वारा आप बहुत ही कम समय में बहुत ज्यादा पैसे कमा सकते हैं, बशर्तें कि आपने अपने ब्लॉग पर अच्छे से काम किया हो।







4). माइक्रोनिच और निच (नॉर्मल) ब्लॉगों में क्या फरक होता है? (Microniche vs Niche Blogs):

माइक्रोनिच और नॉर्मल वेबसाइटों में mainly एक अंतर होता है और वो अंतर होता है- टॉपिक का।


निच वेबसाइटें broad यानि बड़े टॉपिक पर बनी होती हैं जिनपे लिखने को बहुत कुछ होता है और साथ ही साथ उन्हें पढ़ने वालों की संख्या भी काफी ज्यादा होती है। वहीं दूसरी तरह Microniche Blogs निच ब्लॉग्स के जैसे बड़े टोपिकों पर नहीं बने होते हैं बल्कि बहुत ही छोटे टॉपिक पर बने होते हैं जिनपे लिखने को बहुत ही कम ideas होते हैं।







5). माइक्रोनिच ब्लॉगिंग के लिए कुछ टॉपिक (Microniche Blogging Topics Ideas List For 2020)-

अगर आपने भी सोच लिया है कि आप एक microniche blog बनाएंगे तो ये लीजिए पेश हैं कुछ ऐसे microniches, जिनपे अगर आप सही से काम करें तो आपको बहुत profit मिल सकता है-


1. Tech Microniches- Smartphone Camera, Mobile Unboxing, DSLR Lenses, Coupon Codes, Directory Sites, LED Lighting, SEO, Make Money Online.


2. Finance Microniches- Mutual Fund, Share Market, Investing.


3. Entertainment Microniches- Movie Review, Song Review, Celebrity News.


4. Fashion Microniches- Mens Shoes, Womens Shoes, Crocs.








6). माइक्रोनिच ब्लॉग कैसे बनाएँ? (Create Microniche Blog):

अब तक आप माइक्रोब्लॉगिंग के बारे में basic बाते तो जान ही गए होंगे। तो चलिए अब step by step जानते हैं कि आप एक माइक्रोब्लॉग कैसे बना सकते हैं-



1. एक अच्छी माइक्रोनिच ढूंढिए-

माइक्रोनिच ब्लॉगिंग में सबसे जरूरी चीज होती है- आपकी माइक्रोनीच। इसलिए अपने ब्लॉग के लिए निच को बहुत ही ध्यान से चुनें। कोशिश करें कि आप ऐसी niche चुनें, जिसमें कि:

  • सर्च करने वाले ज्यादा लोग हों यानि अच्छा Search Volume हो।


  • उस विषय पर लिखने वाले ब्लॉग्स कम हों या competition कम हो। 



टिप- आप ऊपर दी गई microniches में से अपनी पसंद की कोई niche चूज़ कर सकते हैं।





2. ब्लॉग बनाइये-

जब आप निच से संबंधित पूरी research वगैरह कर लें तो ब्लॉग बनाने का process शुरू कर लीजिए। अपने ब्लॉग के लिए एक अच्छा-सा नाम सोचिए। नाम रखते वक्त ध्यान रहे कि उसमें आप अपना main keyword जरूर शामिल करें। जैसे कि अगर आप Mens Shoes के बारे में microniche बनाने जा रहे हैं तो कोशिश करें कि आप अपने ब्लॉग का नाम BestMenShoes या फिर SexyMenShoes रखें।







ब्लॉगर.कॉम प्लेटफॉर्म के माध्यम से एक छोटा-सा ब्लॉग बनाने में और आपके ब्लॉग का नाम रखने में ये पोस्टें आपकी मदद कर सकती हैं-










3. अपने ब्लॉग का Setup कीजिए-

बस ब्लॉग बना लेना ही काफी नहीं होता है, हमें उसे सर्च इंजनों में रैंक कराने और लोगों को उस तक लाने के लिए उसका Setup और SEO भी करना होता है। सेटअप यानि उसकी settings करना, उसका साइटमैप submit करना और उसके accounts बनाना आदि। इस काम में यह आर्टिकल शायद आपकी कुछ मदद कर सकता है-








4. कंटेन्ट लिखिए-

अब तक आपका ब्लॉग बन चुका है और साथ ही साथ उसका पूरी तरह से setup भी हो चुका है। अब आगे क्या?


अब बारी आती है content लिखने की।


आप अपने हिसाब से हफ्ते में एक, दो, तीन, चार, जितनी चाहें उतनी पोस्टें कर सकते हैं। लेकिन ध्यान रहें सिर्फ ज्यादा पोस्ट करने पे ही ध्यान न दें, बल्कि कोशिश करें कि जो भी पोस्ट आप करें वह अच्छे से लिखी गई हो, जिसे पढ़ने में लोगों को interest आए।











5. प्रमोशन करें-

आज के जमाने में अगर आप अपने ब्लॉग का promotion नहीं करते हैं तो इस बात के बहुत कम chances होते हैं कि आपका ब्लॉग चल पाए।


इसलिए जितना हो सके उतने legal तरीकों से अपने ब्लॉग को लोगों तक पहुंचाने की कोशिश करें।







इस तरह से आप अपने microniche blog को बना सकते हो और साथ ही साथ में उसे successful भी बना सकते हो।




📣 अगर आप Tech, Internet, Blogging, SEO और डिजिटल मार्केटिंग जैसी चीजों से खुद को लगातार update रखना चाहते हैं तो हमारा Newsletter जरूर सबस्क्राइब करें..






7). माइक्रोनिच ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाएँ? (Earn From Microniche Blog):

एक बार अगर आपका मिक्रोनीचे ब्लॉग चल जाता है तो आपके पास बहुत सारे तरीके मौजूद होते हैं जिनकी मदद से आप उससे पैसे कमा सकते हैं-


1. गूगल एडसेंस-

आप अपने माइक्रोनिच ब्लॉग के लिए google adsense में apply कर सकते हैं और approval मिलने के बाद अपने ब्लॉग पर ads लगाके आसानी से पैसे कमा सकते हैं।


2. ऐफ़िलिएट मार्केटिंग-

आप कंपनियों के products या services अपने readers को बेचकर कॉम्पनियों से commision लेकर पैसे कमा सकते हो। इसे Affiliate Marketing कहते हैं।







3. पेड प्रमोशन-

आप किसी कंपनी के प्रोडक्ट (जैसे- फोन या एप) का promotion करके पैसे कमा सकते हो।


4. अपनी services बेचकर-

आप अपने ब्लॉग पर अपनी सेवाएँ (जैसे- Website Designing, Courses, Ebooks, Content Writing) बेचकर भी अच्छा-खासा पैसा कमा सकते हैं।









8). माइक्रोनिच ब्लॉगिंग में ध्यान इन बातों का ध्यान रखें (Things To Remember):

अगर आप भी एक माइक्रोब्लॉग बनाने का सोच रहे हैं तो इन बातों का जरूर ख्याल रखें-


1. निच यानि टॉपिक को जितना हो सके उतना छोटा रखने की कोशिश करें। यानि ब्लॉग में टॉपिक से बाहर की चीजें ना पोस्ट करें।

2. ब्लॉग के नाम में main keyword का प्रयोग करें।

3. ऐसी microniche चुनें जिसमें ज्यादा search volume हो और कम competition हो। इससे आपके ब्लॉग के सफल होने की ज्यादा संभावना होती है।



9). माइक्रोनिच टूल्स ढूंढने के लिए कुछ टूल्स (Microniche Finder Tools):

अपने ब्लॉग के लिए microniche ढूंढने के लिए आप उन्ही टूल्स का उपयोग कर सकते हैं जिनका उपयोग हम keyword research करने में करते हैं।


कीवर्ड रीसर्च टूल्स की मदद से आप किसी topic/term का search volume और competition देख सकते हैं जिसके आधार पर आप decide कर सकते हैं कि आपको उसपे blogging करनी है या नहीं।


ऐसे ही कुछ टूल्स हैं-



2. कीवर्ड फाइन्डर (KWFinder)

3. एसईएमरश (SEMRush)

4. एचरेफ्स (Ahrefs)

5. कीवर्ड्स एव्रीव्हेर (Keywords Everywhere)









🕵️  CURIOUSITY CORNER:


1. एक माइक्रोनिच ब्लॉग से आप कितना पैसा कमा सकते हैं?

जितना मर्जी उतना!


आपके ब्लॉग की कमाई आपके ब्लॉग की language, authority, topic और traffic पर निर्भर करती है। इसलिए अगर आप अपने ब्लॉग की कमाई बढ़ाना चाहते हैं तो आपको इन चीजों पर ध्यान देना होगा।



2. क्या माइक्रोनिच वेबसाइटें गूगल में अच्छे स्थान पर रैंक करती हैं?

गूगल उन वेबसाइटों को बहुत पसंद करता है जो कि किसी एक खास topic पर बनी होती हैं। और अब क्योंकि माइक्रोनिच वेबसाइटें भी एक खास टॉपिक पर बनी होती हैं इसलिए गूगल इन्हें भी अपने सर्च में अच्छी position पर दिखाना पसंद करता है।








ℹ️  AUTHORS' ANGLE: 


दोस्तों अगर माइक्रोब्लॉगिंग को अगर ठीक से किया जाए तो यह आपको बहुत ही कम समय में मालामाल बना सकती है। लेकिन अगर आप इसे सही से नहीं करते हो तो ये आपके पैसे के साथ ही साथ आपका समय भी बर्बाद कर सकती है। इसलिए अपने ब्लॉग को पूरी मेहनत से चलायें।



तो दोस्तों यही था "माइक्रोनिच ब्लॉग/Microniche Blog in Hindi" पर हमारी आज की पोस्ट। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें comment के माध्यम से जरूर बताएं और आपका कोई सवाल हो तो उसे भी जरूर पूछें। हमसे facebook पर जुड़ें ताकि आपको नई post की update मिलती रहे। 





📚 READ MORE POSTS: 


• ब्लॉगिंग क्या है और इससे पैसे कैसे कमाते हैं?



   

Post a Comment

0 Comments