Top Ad

ब्लॉग का Off Page SEO कैसे करें? (Step by Step)

क्या आपने अपने ब्लॉग पर बहुत अच्छा content डाला है मगर इसके बावजूद भी आपके ब्लॉग पर गूगल से views यानि organic traffic नहीं आ रहा है?


क्या आपने अपनी ब्लॉग पोस्टों में keywords का सही use किया है लेकिन फिर भी आपकी साइट गूगल में अच्छी position पर रैंक नहीं कर रही है?


अगर ऐसा है तो मै दावे के साथ कह सकता हूँ आपकी वेबसाइट को किस चीज की जरूरत है।


इस स्थिति में आपकी वेबसाइट को जिस चीज की जरूरत है वह है- Off Page SEO.


यह तस्वीर off page seo करने से संबंधित है।


ऑफ पेज एसईओ, SEO का ही एक बहुत अहम हिस्सा है जिसे कि अगर हम अपनी साइट पर अच्छे से implement करें, तो हमारी साइट कुछ ही समय में गूगल पर अच्छे स्थान पर rank कर सकती है।


तो क्या है यह Off Page SEO और आप अपनी वेबसाइट का ऑफ पेज एसईओ कैसे कर सकते हैं, चलिए जानते हैं आज के इस आर्टिकल के माध्यम से-




ब्लॉग का ऑफ पेज एसईओ करने का तरीका/Off Page SEO Techniques in Hindi







1. ऑफ-पेज SEO क्या है?

ऑफ पेज एसईओ उन सारी SEO activities को बोलते हैं जिन्हें हम पोस्ट publish करने के बाद करते हैं।


आसान भाषा में कहूँ तो,

जिस SEO को हम वेबसाइट के बाहर (यानि externally) करते हैं ताकि हमारी वेबसाइट गूगल में ऊपर rank हो। उसे Off Page SEO कहते हैं।


मसलन, हम अपनी वेबसाइट को गूगल में अच्छी पोज़िशन पर रैंक करवाने के लिए दूसरी साइटों पे उसके backlinks बनाते हैं। साथ ही साथ अपनी पोस्टों को social media पर शेयर करते हैं। इन सब चीजों को ही कुल-मिलाकर 'Off Page SEO' कहा जाता है।






2. ऑफ-पेज एसईओ तकनीकें (Off Page SEO Techniques):

कुछ tried and tested तकनीकें हैं जिनकी मदद से आप अपनी साइट का off page seo बहुत ही शानदार तरीके से कर सकते हैं। ऐसी ही कुछ techniques हैं-


1. बैकलिंक बनाना (Link Building)-

दूसरों की साइट पर हमारी साइट का link होने को 'backlink' कहते हैं। बैकलिंक्स गूगल में rank करने के लिए बेहद जरूरी होते हैं। अगर आपकी साइट के पास अच्छे backlinks हैं तो उसके गूगल में rank करने के काफी strong chances होते हैं। इसलिए हमें अपनी साइट के quality backlinks बनाने पर बहुत अधिक ध्यान देना चाहिए।



2. सोशल मीडिया पर शेयर करना (Social Sharing)-

अपनी पोस्ट को social media पर शेयर करना भी off-page seo का ही एक part है। अगर ज्यादा से ज्यादा लोग आपकी पोस्ट को facebook, twitter जैसी साइटों पर share करते हैं तो इससे गूगल को आपकी पोस्ट की popularity के बारे में पता चलता है और वह आपकी पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाता है।


3. गेस्ट पोस्ट करना (Guest Posting)- दूसरों के ब्लॉग पर पोस्ट लिखकर हम अपने ब्लॉग के लिए बड़ी आसानी से backlink बना सकते हैं।








4. ऑनलाइन फोरम और समूह (Online Forums & Communities)- ऑनलाइन फोरमों और कम्यूनिटियों में सक्रिय रहकर हम अपने ब्लॉग के लिए अच्छे backlinks बना सकते हैं और साथ ही साथ बहुत सारा free traffic भी अपने ब्लॉग पर ला सकते हैं।


5. सवाल-जवाब साइटें (Question-Answer Platforms)- क्वेशन-आन्सर वेबसाइटों पर जवाब लिखकर और उस जवाब के अंत में अपनी पोस्ट का link देकर हम अपनी वेबसाइट का off page seo कर सकते हैं। साथ ही साथ इससे हमारी साइट पर बहुत सारा traffic भी आता है।


6. ब्लॉगिंग डायरेक्टरियाँ (Blog Directories)- Indiblogger और Indibloghub जैसी blog directories में अपने ब्लॉग को submit करने से हमारी साइट के off page seo में काफी हद तक सुधार आता है।


7. सर्च इंजन में वेबसाइट को शामिल करना (Search Engines Submission)- वेबसाइट को सर्च इंजनों जैसे-google, bing में submit करने से वह गूगल में index हो जाती है। जिससे वह बहुत सारे लोगों तक पहुँचने लगती है। इसके लिए आप Google Search Console और Bing Webmaster Tool का उपयोग कर सकते हैं।


8. कमेन्ट के द्वारा बैकलिंक बनाना (Comment Backlinking)- कई साइटें अपने comment section में आपको अपने कमेन्ट के साथ अपनी वेबसाइट का link जोड़ने का option देती हैं। अपने niche से related ऐसी ही कुछ High Quality Sites में जाके आप comment के माध्यम से अपनी साइट के backlink (no-follow) बना सकते हैं। लेकिन ध्यान रहे honest comment लिखें और spam ना करें। इससे आपकी साइट को नुकसान उठाना पड सकता है।


9. ब्लैकलिस्टिंग (Blacklisting)- कई बार लोग हमारी साइट को गलत कामों की वजह से blacklist कर देते हैं जिससे कि गूगल की नज़रों में हमारी साइट की images बहुत खराब हो जाती है।








3. ऑफ-पेज एसईओ कैसे करें? (How to do Off-page SEO):

कुछ देर के लिए अगर Link Building को अगर छोड़ दिया जाए तो यह कहना बिल्कुल भी गलत नहीं होगा कि किसी ब्लॉग का Off-page SEO करना बहुत ही ज्यादा आसान है।


ऑफ-पेज SEO का मकसद गूगल को अपनी साइट के बारे में mainly ये 3 चीजें बताना होता है-


  • हमारी वेबसाइट लोगों के बीच popular है (Site Popularity).
  • हमारी साइट पर लोग भरोसा करते हैं (Site Trust). 
  • हमारी साइट का Content शानदार है (Content Quality).

अगर आप किसी तरह गूगल को अपनी वेबसाइट की इन तीन चीजों से impress कर देते हैं तो गूगल आपको अपने सर्च में अच्छी पोजीशन पर rank जरूर करेगा।



तो चलिए step by step जानने की कोशिश करते हैं कि कैसे आप गूगल को अपनी वेबसाइट की इन तीन चीजों के बारे में बता सकते हैं यानि दूसरे शब्दों में कहें तो कैसे आप अपनी वेबसाइट का Off-Page SEO कर सकते हो-



1. पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करें (Social Sharing)-

पोस्ट को publish कर लेने के बाद सबसे पहली चीज जो आपको करनी है वो है- उसे अपने social media accounts पर शेयर करना।


उदाहरण के तौर, पर आप अपनी पोस्ट को अपने facebook page, facebook group, twitter profile और LinkedIn Account पर शेयर कर सकते हैं।



इससे आपको 2 फायदे होते हैं-



  • एक तो आपकी पोस्ट बहुत सारे लोगों तक पहुँच जाती है। और,
  • दूसरा आपकी नई पोस्ट के बारे में गूगल को पता चल जाता है और वह जल्दी से उसे अपने database में crawl कर लेता है।


मैं personally जिन social media पर अपनी हर पोस्ट साझा करता हूँ वो है- Facebook, Twitter और LinkedIn. आप भी अपनी पोस्ट publish होने के तुरंत बात उसे social media पर शेयर करें।








2. ब्लॉग डाइरेक्टरियों में पोस्ट का लिंक शामिल करें (Blog Directories)-


वर्तमान समय में एक ब्लॉगर जितना traffic सोशल मीडिया से प्राप्त करता है उससे कई ज्यादा traffic वह Blog Directories जैसे- Indiblogger और Indibloghub से प्राप्त कर सकता है।


इसलिए as a blogger आपको अपने ब्लॉग को Popular Blog Directories में submit करना चाहिए और अपनी हर नई पोस्ट का link उनमें डालना चाहिए।



इस तरह कुछ ही दिनों में आप खुद पाएंगे कि आपकी साइट की authority बढ़ गई है और धीरे-धीरे इन sources से आपके ब्लॉग पर पर्याप्त quality traffic आने लगता है।





3. ऑनलाइन फोरम और कम्यूनिटी में सक्रिय रहें (Online Forums & Communities)-

ऑनलाइन फोरम और ग्रुपों (जैसे- stackoverflow, facebook groups) में लोग अपनी परेशानी का हल ढूंढने आते हैं और अगर आप उनकी समस्या का समाधान कर देने हैं तो इस बात के बहुत ज्यादा chances हैं कि वे आपके ब्लॉग के loyal reader बन जाएँ और regularly आपके ब्लॉग पर आकर पढ़ने लगें।


पर यह सब तभी संभव होगा जब आप अपना selfish motive एक कोने में में रखकर सच में उनकी मदद करें।




4. सवाल-जवाब वेबसाइटें (Question-Answer Sites)-


कुछ साल पहले तक इंटरनेट पर Forums और Communities का बोलबाला होता था। अगर किसी को कोई भी problem होती थी तो वो अपना सवाल Forum में डाल देता था और इस तरह उसे एकाध लोगों से suggestion मिल जाते थे।



लेकिन आजकल इंटरनेट पर फोरमों से ज्यादा Question-Answer साइटें popular हैं। कोरा (Quora) जैसे Question-Answer Platform को तो कई सारे लोग facebook और Instagram जैसी social sites के जैसे ही use करते हैं।



एक blogger के रूप में हम इस तरह की साइटों पर जाकर लोगों के सवालों का satisfactory जवाब देकर उनकी समस्याओं का समाधान कर सकते हैं और अपने जवाबों के अंत में अपनी post का link देकर लोगों को अपने ब्लॉग तक ला सकते हैं और उन्हें अपने ब्लॉग का loyal reader बना सकते हैं।




5. शेयर करने लायक कंटेन्ट लिखिए (Create Sharable Content)-


अगर लोग आपकी पोस्ट को शेयर करते हैं तो इससे उसका off page seo बेहतर होता है। इसलिए ऐसा content produce कीजिए जिसे share करने से लोग खुद को न रोक पाएँ।



टिप- लोग सबसे ज्यादा Detailed Posts, Interesting Posts और News Stuff को शेयर करते हैं।








6. सर्च इंजन सबमिशन (Search Engine Submission)-


गूगल सर्च कंसोल और बिंग वेबमास्टर टूल जैसे साधनों की मदद से आप अपने ब्लॉग को सर्च इंजनों में बेहतर स्थान पर rank करा सकते हो। इसके लिए आपको बस अपनी साइट का Sitemap इन टूल्स में submit कर देना है। इसके बाद आपकी साइट की हर पोस्ट जल्दी से गूगल और बिंग सर्च इंजनों में rank होनी शुरू हो जाएगी।



7. ब्रांड मेनशन (Brand Mentions)-

कई बार होता है कि कुछ blogger सिर्फ हमारी वेबसाइट का नाम ही mention करते हैं वो हमारी साइट का link नहीं देते। इस बिना लिंक वाली चीज को 'Brand Mention' कहते हैं।



गूगल backlinks के साथ-ही-साथ Brand Mentions को भी एक Off-Page SEO factor मानता है। यानि आपकी वेबसाइट के नाम का जिक्र मात्र होना भी उसकी सर्च इंजन रैंकिंग को प्रभावित करता है।




8. आउटरीच (Influencer Outreach)-

जब हम अपनी किसी चीज का promotion करने के लिए किसी व्यक्ति के पास जाते हैं या उससे contact करते हैं तो इसे 'Outreach' कहा जाता है।


जैसे अगर आपने 'SEO कैसे करें?' पर कोई पोस्ट लिखी है तो आप लोगों को email या फिर social networking sites के माध्यम से message भेजकर उन्हें उसे पढ़ने को बोल सकते हैं और अगर पसंद आए तो वे उसे share भी कर सकते हैं।









9. कमेन्ट लिंक्स (Commenting on Other sites)-


अपने topic से संबंधित अन्य high traffic sites पर अपनी वेबसाइट के url के साथ कमेन्ट करके आप अपनी वेबसाइट के no-follow links की संख्या बढ़ा सकते हैं जो कि Off-Page SEO में बेहद मायने रखते हैं।


ध्यान रहे सिर्फ अपनी वेबसाइट का url सिर्फ वहीं डालें जहाँ पर डालने को कहा गया हो। उसे अपने कमेन्ट के साथ comment box में बिल्कुल भी न लिखें।



this pictures shows a website comment box that contains options like- name, surname, website url and comment.



10. डॉक्यूमेंट शेयर करें (Share Documents to build backlinks)-


Slideshare जैसी वेबसाइटों पर लोगों के काम का कोई document (जैसे- अपनी लिखी हुई कोई ebook या फिर post) शेयर करके आप उसमें अपनी साइट का link add कर सकते हैं। इससे आपकी साइट को एक backlink मिलता है और साथ ही साथ भारी मात्रा में traffic भी आता है।






11. विडिओ साइटों (यूट्यूब) के द्वारा (Video Sharing Sites)-


अगर आपके पास कोई Youtube या फिर Dailymotion channel है और आप उसपे video डालते हो तो आप उन videos के description में अपनी साइट का link दे सकते हो। इससे आपकी साइट गूगल की नजर में आती है और साथ ही साथ बहुत सारे लोग आपकी वेबसाइट तक आ जाते हैं।


12. फोटो-शेयरिंग वेबसाइटों द्वारा (Photo Sharing Sites)-


फोटो शेरिंग वेबसाइटों जैसे-pinterest में अपनी ब्लॉग पोस्ट share करके आप अपने ब्लॉग की social reach को मजबूत बना सकते हैं।



13. गूगल माइ बिजनेस और गूगल मॅप में शामिल करें (Google Map & My Business Submission)-


अगर आपने Google Map या फिर Google My Business में अपना कोई business register किया है तो उसमें अपनी वेबसाइट का link जरूर दें। इससे गूगल का आपकी वेबसाइट पर भरोसा बढ़ता है।





  • ऑफ-पेज SEO में आपकी वेबसाइट की authority, trust और SSL बहुत ज्यादा मायने रखता है।









🕵️  CURIOUSITY CORNER:


1. वेबसाइट का ऑफ-पेज SEO करना कैसे सीखें (Learn Off-Page SEO)?

वेबसाइट का SEO करना सीखने से लिये सबसे जरूरी बात आपके पास लगातार experiment करने की लगन होनी चाहिए। एसईओ हर समय बदलता ही रहता है। जो SEO technique कल काम करती थी वो आज नहीं चलती है। एसईओ practice की मांग करता है।


इसलिए बेहतर SEO सीखने के लिए यह बहुत जरूरी है कि आप लगातार अपने ब्लॉग पर पोस्टें लिखते रहें और अपनी गलतियों से सीखते रहें। इस तरह धीरे-धीरे आप अपनी SEO skills को निखरता हुआ पाएंगे।


2. ऑफ पेज SEO से ब्लॉग को क्या फायदा होता है? 

ऑफ-पेज SEO से एक ब्लॉग को बहुत ज्यादा फायदे होते हैं। ऑफ पेज SEO गूगल को बताता है कि आपकी साइट कितने popular है और साथ ही साथ इसपे कितना ज्यादा भरोसा किया जा सकता है। जिससे वह हमारी साइट को ऊपर rank कर पाता है और हमारी साइट बहुत सारी लोगों की नजर में आ पाती है।







ℹ️  AUTHORS' ANGLE: 

मैं अपनी हर पोस्ट को publish करने के बाद जल्दी से उसे इन 8 Platforms पर शेयर करता हूँ-


  • Facebook Page
  • Twitter
  • LinkedIn
  • Indiblogger
  • Indibloghub
  • Reddit
  • Mix (formerly known as 'Stumbleupon')
  • Pinterest

अपनी वेबसाइट के बेहतर Off-Page SEO के लिए आप भी इन आठों प्लेटफॉर्म पर अपना account बनाकर अपनी पोस्टों को जरूर share करें।



तो दोस्तों यही थी "वेबसाइट का ऑफ-पेज एसईओ करने/ off-page seo kya hai kaise karte hai best 10 techniquesपर हमारी आज की पोस्ट। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें comment के माध्यम से जरूर बताएं और आपका कोई सवाल हो तो उसे भी जरूर पूछें। हमसे facebook पर जुड़ें ताकि आपको नई post की update मिलती रहे। 





📚 READ MORE POSTS: 


• ब्लॉगिंग क्या है और इससे पैसे कैसे कमाते हैं?



   

Post a Comment

2 Comments

  1. nice post mujhe apki ye post bahut achchi lgi bahut kam log hain jo hindi me itni achchi jankaari de pate hain hindi hmari matr bhasha hai hme isko aage lena chahiye aap bahut achcha kam kar kar rhe hain

    ReplyDelete
    Replies
    1. बहुत बहुत धन्यवाद आपका मैंने यह ब्लॉग बनाया ही इसलिए था ताकि मैं हिन्दी में लोगों को इंटरनेट से जुड़ी चीजों के बारे में गहराई से जानकारी दे पाउ और हिन्दी ब्लॉगिंग clickbait से ऊपर उठाना ही मेरा उद्देश्य है :)

      Delete

आपके कमेंट के लिए शुक्रिया. हम आपको जल्दी-से-जल्दी जवाब देने की कोशिश करेंगे!