Top Ad

Page Authority (PA) क्या होती है?

अगर आपने कभी अपनी साइट का SEO check किया है तो आपने Domain Authority और Page Authority के बारे में तो जरूर सुना होगा। डोमेन अथॉरिटी (DA) के बारे में हम अपनी पिछली पोस्ट में चर्चा कर चुके हैं और अब आज की इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं पेज अथॉरिटी (PA) के बारे में, कि यह पेज अथॉरिटी आखिर होती क्या है और इससे आपकी website पर क्या प्रभाव पड़ता है? 


in this article we have talked about page authority metrics by moz and its effect on your site in hindi language.
तस्वीर- पिकसाबे


1. पेज अथॉरिटी क्या है (What is Page Authority of website):

जिस तरह Domain Authority (D.A) हमारे पूरे domain यानि site की सर्च इंजनों (जैसे- Google) में रुतबे के बारे में जानकारी देती है ठीक उसे प्रकार page authority यानि P.A हमारी website के किसी एक पेज (पोस्ट) के गूगल में rank होने की संभावना को बताती है। 


आसान भाषा में कहें तो,


पेज अथॉरिटी यह बताती है कि आपकी साइट के किसी individual पेज को गूगल अपने सर्च में कितनी वरीयता देता है. 








2. डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी में क्या अंतर है? (DA  vs PA):


  • किसी वेबसाइट की डोमेन अथॉरिटी और पेज अथॉरिटी में सबसे पहला फरक तो यह है कि डोमेन अथॉरिटी पूरी साइट के गूगल में रैंक होने की संभावना को दर्शाती है जबकि पेज अथॉरिटी उसी साइट के किसी व्यक्तिगत पेज की। 


  • आमतौर पर किसी साइट का PA उसके DA से ज्यादा होता है। ज्यादातर मामलों में इन दोनों के बीच का फरक 10 से 20 point का होता है। 

  • डी.ए को पी.ए के मुकाबले ज्यादा लोगों द्वारा सराहा जाता है। 



3. DA या PA- कौन सा ज्यादा बेहतर है? (Which one is Best):


वैसे डी.ए और पी.ए दोनों metrics को लगभग एक जैसे ही मापदंड पर मापा जाता है लेकिन क्योंकि गूगल में रैंक करने के लिए आपका domain ज्यादा अहमियत रखता है इसलिए Domain Authority को PA से ज्यादा बेहतर metric माना जाता है। इसीलिए यह किसी भी अन्य साइट मेट्रिक से ज्यादा popular भी है। 



4. साइट की पेज अथॉरिटी कैसे चेक करें? (Check Page Authority):


इसके लिए आप मोज़ के official टूल Link Explorer का use कर सकते हैं। इसके अलावा अगर आप चाहें तो गूगल में "Website PA checker tools" सर्च करके भी अपनी साइट की पेज अथॉरिटी जान सकते हैं। 


आपके साइट का DA, PA, Trust Rank, Alexa Rank आदि metrics चेक करने का all-in-one टूल-   वेबसाइट SEO चेकर 









5. साइट की पेज अथॉरिटी कैसे बढ़ाएँ? (Increase Page Authority):

अपनी वेबसाइट के PA में इजाफा करने के लिए आपको नीचे दी हुई बातों का ध्यान रखना चाहिए-


  • अपनी साइट की backlink profile मजबूत रखें यानि no follow और do follow दोनों प्रकार के लिंक बनाएँ। गलत तरीकों से अपनी साइट के लिए backlinks ना बनाएँ। 




  • साइट के पेजों में अच्छा content लिखें। अगर आप अपना content अच्छा रखते हैं तो आपकी page authority में भी अपने आप ही सुधार आने लगता है। 

  • अपनी साइट की अच्छे से Internal linking करें यानि अपनी साइट के पेजों को एक-दूसरे से लिंक करें इस तरह से आपका On page SEO सुधरता है और साथ ही साथ आपका पी.ए भी।


अपनी साइट का PA बढ़ाने के लिए आप उन्ही factors का इस्तेमाल कर सकते हैं जिन्हें DA सुधारने में प्रयोग किया जाता है। क्योंकि ये दोनों चीजें (DA और PA) काफी हद तक एक-दूसरे से मिलती-जुलती हैं। 














ℹ️  AUTHORS' ANGLE: 

आपकी वेबसाइट के लिए Domain Authority जितना मायने रखती है शायद Page Authority उतनी ज्यादा अहमियत नहीं रखती है। शायद यही कारण है कि डीए, पीए की तुलना में ज्यादा लोकप्रिय है। इसलिए अपनी साइट की growth का पता लगाने के लिए DA पर ज्यादा ध्यान दें। 



तो दोस्तों यही था "वेबसाइट की पेज अथॉरिटी के बारे में जानकारी (Information about Page Authority)" पर हमारी आज की पोस्ट। यह आर्टिकल आपको कैसा लगा हमें comment के माध्यम से जरूर बताएं और आपका कोई सवाल हो तो उसे भी जरूर पूछें। इसके अलावा हमसे facebook पर जुड़ें ताकि आपको हमारी नई post की update मिलती रहे। 




📚 READ MORE POSTS: 


• ब्लॉगिंग क्या है और इससे पैसे कैसे कमाते हैं?



   
• SEO क्या है और ये कैसे काम करता हैं?


  Domain Authority (DA) क्या होता है?


• गूगल पर फ्री में अपना BLOG या WEBSITE कैसे बनाएँ? (BlogSpot से)


• Moz Rank क्या होती है?


• ब्लॉग के लिए Copyright Free Images कैसे डाउनलोड करें? 6 Websites


• 8 बातें– जो हर Entreprenuer फेसबुक कम्पनी से सीख सकता है


• गूगल के टॉप 150 Ranking Factors की पूरी लिस्ट (2019)


• ना कोई Ad, ना ही Fees, फिर भी कैसे कमा लेती है व्हाट्सएप?


• Page Rank क्या है?


Post a Comment

0 Comments