Top Ad

ब्लॉग के लिए आर्टिकल कैसे लिखें? 11 Tips | How to Write Articles in Hindi

आपकी एक ब्लॉग-साइट है जिसे आपने बहुत ही अच्छे तरीके से design किया है और साथ ही साथ उसका SEO भी आपने बहुत अच्छे ढंग से कर रखा है। मगर जरा सोचिए, क्या होगा अगर आपने अपने ब्लॉग का CONTENT ही शानदार नहीं बनाया है?


A guy writing blog post article on paper with pen.
Image Source- Pixabay



बात सीधी-सी है कि- "लोग आपकी वेबसाइट पर आएंगे तो जरूर, मगर ज्यादा देर तक उस पर टिक नहीं पाएंगे या शायद जल्दी-से किसी दूसरी वेबसाइट पर चले जायें।


ऐसा बहुत ही कम होता है कि लोग किसी website पर सिर्फ इसलिए जाएं क्योंकि उनको उस वेबसाइट का look अच्छा लगता है। दरअसल ज़्यादातर लोग किसी blog पर अच्छे कंटेंट की तलाश में जाते हैं और अगर किसी कारणवश उन्हें आपकी साइट का content भा जाता है तो वो आपके बन loyal readers बन जाते हैं और बार-बार आपके articles को पढ़ना शुरू कर देते हैं और इस तरह से आपका ब्लॉग लोगों की नजरों में चढ़ना शुरु हो जाता है और फिर उसे popular हो जाने में ज़्यादा देर नहीं लगती!


वो कहते भी हैं ना-



CONTENT IS THE KING!


अब क्योंकि कंटेंट एक ब्लॉग के लिए बहुत ज्यादा मायने रखता है, इसलिए आज की इस पोस्ट में हम यही जानने वाले हैं कि कैसे आप अपने ब्लॉग के लिए एक अच्छा और interesting Blog Post Article लिख सकते हैं ताकि आपके Readers आपके ब्लॉग से चिपके रहें। तो पेश है, ब्लॉग लिखने के सही तरीके पर कुछ टिप्स-









• अच्छे आर्टिकल कैसे लिखें /How to write good articles in hindi





1)• अपने पर्सनल एक्सपीरियंस लिखें (Share Your Personal Experiences):


जब भी हम किसी चीज (topic) पर कोई article लिखते हैं तो ऐसा कई बार होता है कि उस चीज से हमारा कोई पर्सनल किस्सा या फिर तजुर्बा जुड़ा होता है। हम अपनी उस story या experience को अपनी पोस्ट में शामिल करके उसे और ज्यादा interesting और practical बना सकते हैं।


जैसे मान लीजिए आप 'सुबह जल्दी कैसे उठे' पर कोई आर्टिकल लिख रहे हैं। अब हो सकता है कि इससे आपकी जिंदगी का कोई किस्सा जुड़ा हुआ हो। हो सकता है कि पहले आपकी सुबह जल्दी उठने की आदत ना रही हो लेकिन फिर बाद में आपने काफी मेहनत करके इसे अपनी आदत बना लिया हो। तो आप अपना यही अनुभव अपने आर्टिकल में शामिल कर सकते हैं। इस तरह से आपके readers भी motivate होंगे और उन्हें आप की कहानी सुनने में मजा भी आएगा।


हमेशा याद रखिए-



आज के जमाने में लोग फालतू का ज्ञान 2 मिनट भी सुनना पसंद नहीं करते हैं मगर वही कहानियां घंटों तक पढ़-सुन सकने की काबिलियत रखते हैं।


इसलिए as a writer हमेशा अपने तजुर्बे और किस्सों को कहानियों में तब्दील करने का हुनर रखिये। अच्छा लिखने के लिए हमें Art Of Storytelling आनी चाहिए।











2)• सवाल पूछिए (Ask Questions):



पढ़ते वक्त इंसान को जब भी कुछ out of the box सोचने को नहीं मिलता है तब तक उसे उस चीज को पढ़ने में बहुत ज्यादा मजा नहीं आता है और सवाल ही वो चीज है जो इंसान को कुछ हटकर सोचने का मौका देती है उसकी brain nerves को active करती है। इसलिए हमें अपने आर्टिकल में अपने रीडर्स से सवाल पूछने चाहिए।


उदाहरण के तौर पर, अगर आप सुबह जल्दी कैसे उठे पर एक पोस्ट लिख रहे हैं तो आप आप लोगों से पूछ सकते हैं कि- 'क्या आप भी सुबह जल्दी उठना चाहते हैं मगर बार-बार कोशिश करने पर भी नहीं उठ पाते हैं...? अगर हां तो आपकी परेसानी का समाधान आपको  इस पोस्ट में मिलने वाला है।' इससे पढ़ने वाले व्यक्ति को ये महसूस हो जाता है कि इस आर्टिकल में उसे अपने सवाल का जवाब मिलने वाला है और इससे फिर वह उसे बड़े interest के साथ पढ़ने लगता है।










3)• आर्टिकल का ब्लूप्रिंट बनाइये (Make Blueprint of Article ):

ऐसे ही कोई आर्टिकल लिखना शुरु मत कर दीजिये। लिखना शुरू करने से पहले सोचें कि इसमें आप कौन-कौन सी चीजें, कौन-कौन से topic cover करने जा रहे हैं। उनका एक blueprint तैयार कीजिए और जब सब कुछ ready हो जाए, फिर आप आर्टिकल लिखना शुरू कर सकते हैं। इससे हम पोस्ट को arranged ढंग से लिख पाते हैं और साथ ही साथ कोई point भी नहीं छूटता है।


जैसे कि, अगर आप 'सुबह कैसे उठे' पर लिख रहे हैं तो आप 'सुबह करने का तरीका, सुबह उठने के फायदे, सुबह उठने का सही समय'  जैसी चीजें अपने article में शामिल कर सकते हैं। आप चाहें तो इन्हें sub-heading की तरह भी use कर सकते हैं।










4)• पैराग्राफ्स को छोटा रखें (Keep PARAs short):

लंबे-लंबे को paragraphs को पढ़ना शायद ही कोई इंसान पसंद करता है, क्योंकि उन्हें पढ़ने में बहुत बोरियत महसूस होती है इसलिए जितना हो सके पैराग्राफ्स को short रखना चाहिए। इससे reader का flow और interest दोनों बने रहते हैं।


दुनिया के ज्यादातर बड़े writers और bloggers चीजों को छोटे-छोटे paragraphs में तोड़कर लिखना ज्यादा पसंद करते हैं जिस वजह से उनके पाठक भी उनकी लिखी चीजें पढ़ना बहुत ज्यादा पसंद करते हैं।


नीचे दी हुई picture में आप पॉपुलर ब्लॉगर और डिजिटल मार्केटर Neil Patel का Writing Style देख सकते हैं, कि वे किस तरह अपने आर्टिकल्स को टुकड़ों में तोड़कर लिखते हैं-



This photo is a screenshot taken from neilpatels blog: A famous digital marketer
Source: neilpatel.com




5)• बुलेट पॉइंट्स का इस्तेमाल करें (Include Bullet Points):


बुलेट पॉइंट्स यानी article के बीच में लिखे जाने वाले छोटे-छोटे नोट्स। इनका यूज करने से आर्टिकल का FLOW बनता है और साथ ही साथ रीडर्स का interest भी बना रहता है।


इसके साथ ही साथ पोस्ट में टॉपिक से realted कुछ intersting facts शामिल करने से रीडर्स का आर्टिकल की तरफ attention बढ़ता है।


जैसे अगर आप "ईमेल" टॉपिक पे आर्टिकल लिख रहे हैं तो आप अपने readers को बता सकते हैं कि पहला जो ईमेल था वो 1971 में बिना internet के  भेजा गया था...! इससे लोगों को कुछ नया सीखने को मिलेगा और वो आपके ब्लॉग से लगातार जुड़े रहेंगे।











6)• रोमांच बनाये रखें (Keep The Thrill On):


Sci-fi movies आखिर किसे पसंद नहीं होती? बच्चे हो या बूढ़े सभी को रोमांच भाता है। पर क्या आप बता सकते हैं कि क्यों science fiction फिल्में देखने में हमें किसी ordinary film देखने से ज्यादा मजा आता है? क्यों बड़ी फिल्मों की लिस्ट में ज़्यादातर बार साइंस- फिक्शन फिल्मों का नाम शुमार होता है?


कारण है- "इनमें छुपा हुआ महा रोमांच (Thrill)"


साइंस फिक्शन देखने और पढ़ने वालों को यह idea नहीं होता है कि इसमें आगे क्या होने वाला है? इसलिए लोग ऐसी फिल्मों को बड़ा curious होकर देखते हैं ताकि कोई भी scene miss न हो जाये। इसी concept को हम भी अपने राइटिंग स्टाइल में शामिल कर सकते हैं। अगर हम चीजों को अपने आर्टिकल में एकदम से न खोल कर उन्हें आहिस्ता आहिस्ता लोगों के सामने खुलने देते हैं तो उन्हें उसे पढ़ने में ज्यादा मजा आता है।


उदाहरण के तौर पर, अगर आप "ब्लॉगिंग क्या है" इस टॉपिक पर लिख रहे हैं तो-


आज की इस पोस्ट में हम जानने वाले हैं कि Blogging क्या है और इसे कैसे करते हैं...


सीधा-सीधा ऐसा लिखने के बजाय अगर इसे आप थोड़ा suspense बनाकर इस तरह लिखें तो इसमें पढ़ने वाले को शायद ज्यादा मजा आ सकता है-



क्या आपने कभी सोचा है कि internet पे इतनी सारी जानकारियां (information) आखिर डालता कौन है। गूगल आखिर हमारे ज्यादातर सवालों के सही जवाब हमें कैसे दे पाता है? आज की इस पोस्ट में हम आपके सवालों का जवाब देने वाले हैं...


चीजों को इस तरह पेश करने से लोगों को आप का लिखा हुआ पढ़ने में ज्यादा मजा आता है और वह आपके ब्लॉग से जुड़े रहते हैं।











7)• दूसरों से कुछ हटकर लिखिए (Stand Out from Other Blogs):


आज एक ही topic पर हजारों लोग अपनी राय लिखते हैं। उनमें से ज्यादातर लोग बस एक बनी बनाई लीक पर ही चलते हैं, लिखते हैं। इसके उलट अगर आप उन से हटकर कुछ लिखते हैं तो लोग आपकी तरफ attract होंगे क्योंकि आपने कुछ unique किया है, कुछ हटके किया है।


उदाहरण के तौर पर, अगर ज्यादातर लोग 'सुबह उठने के टिप्स' पर लिख रहे हैं तो आप 'सुबह उठने का एक शानदार तरीका' पर लिख सकते हैं।


अगर दूसरे लोग अपने आर्टिकलों में अपने experiences साझा नहीं कर रहे हैं तो आप कर सकते हैं। इस तरह की छोटी-छोटी चीजें करने से आपके राइटिंग स्टाइल में एक तरह की effectiveness आती है और लोग आपके लिखे हुए content को बड़े interest के साथ पढ़ने लगते हैं।










8)• कुछ सबूत दिखाइए (Show some proof):


अपने रीडर्स को भरोसा दिलाने के लिए आप जिस चीज पर लिख रहे हैं उस चीज के बारे में कुछ proof दिखा सकते हैं, जिससे कि उन्हें यकीन आ सके कि जो आप बता रहे हैं वह चीज सच में काम करती है।


उदाहरण के तौर पर, अगर आप 'ब्लॉगिंग से पैसे कैसे कमाए' पर लिख रहे हैं तो आप अपनी ब्लॉगिंग से हुई कमाई का screenshot लेकर उसे आर्टिकल मे शामिल कर सकते हैं। लेकिन अगर आप personally ऐसा नहीं करना चाहते हैं तो किसी बड़े blogger की income report का screenshot या link वहां पर दे सकते हैं इससे आपके पाठकों का आपकी बताई हुई बातों पर भरोसा बढ़ता है।


» Direct Proof देने के अलावा भी आप अपनी personal experiences & stories शेयर करके अपने readers का भरोसा जीत सकते हैं।


एक बात हमेशा याद रखिये-



बड़े ब्लॉगर्स बड़े इसलिए बनते हैं क्योंकि उनके रीडर्स उन पर भरोसा करते है।











9)• रीडर्स को रिसोर्स दीजिये (Provide them Resources):


दुनिया के सबसे बड़े और भरोसेमंद ब्लॉग WIKIPEDIA के हर article के आखिर में एक section होता है जिसका नाम होता है- REFERENCES  & EXTERNAL LINKS


रेफरेंसेस और एक्सटर्नल लिंक्स में लोगों के लिए उस टॉपिक के बारे में further reading के लिए दिए होते हैं ताकि वे उनसे उस टॉपिक के बारे में ज्यादा जानकारी प्राप्त कर सके और उनकी मदद हो सके।



विकिपीडिया की तरह ही हम भी अपने readers को अच्छे resources (links, photos, videos, podcasts) उपलब्ध कराकर उनकी मदद कर सकते हैं और अपने ब्लॉग को और ज़्यादा भरोसेमंद, पॉपुलर और अपनी niche के लिए go-to source बना सकते हैं।






10)• अपनी भाषा मजबूत रखिये (Make Your Language Strong):


आप अपने लेख में किस तरह के शब्दों और किस तरह से शब्दों का इस्तेमाल करते हैं इससे आपका कंटेंट काफी हद तक प्रभावित होता है। जैसे- हिंदी में अगर आप कुछ उर्दू के शब्दों का और अंग्रेजी में कुछ खास phrases और idioms का use करते हैं तो इससे आपकी राइटिंग में एक शानदार elegancy आ जाती है जिससे आपका राइटिंग स्टायल बिल्कुल एक professional writer के जैसे लगने लगती है। आप पोस्ट कैसे लोगों में लिख रहे हैं यानी आपकी पोस्ट को किस तरह के लोग पढ़ने वाले हैं उस हिसाब से शब्दों का चयन करें








जैसे कि अगर आप non-professional लोगों के लिए पोस्ट लिख रहे हैं तो technical के बजाय आम शब्दों का ज्यादा यूज करें और अगर आप professional space में लिख रहे हैं तो technical terms का use करना तो जरूर बनता है।


As a writer, हमें हर तरह से लिखना आना चाहिए।





11)• सही जानकारी दें (Write Correct Info):


अपनी बात को सही साबित करने के लिए उसे बहुत ज्यादा बढ़ा-चढ़ा कर पेश न करें, इससे आपके readers का आपसे भरोसा कम होता है। आर्टिकल में  facts, links, records, photos जैसी चीजें अगर trustworthy sources (जैसे- विकिपीडिया) से ही ली जाए तो अच्छा रहेगा।





12)• कुछ छोटे-छोटे राइटिंग टिप्स (Quick Writing Tips):


• आर्टिकल  को लंबा करने के लिए चीजों को बार-बार ना दोहराए, इससे आर्टिकल को पढ़ने में बोरियत आती है।

• Grammatical Mistakes को जितना हो सके, कम करने की कोशिश करनी चाहिए।

• आर्टिकल में वीडियो, तस्वीरों आदि को शामिल करना चाहिए। इससे पाठक पढ़ते वक्त ऊबते नहीं हैं।









ℹ️  AUTHORS' ANGLE: 

एक बात हमेशा ध्यान में रखिए-


जितना ज्यादा आप लिखते हैं उतना ही ज्यादा आपके लिखने का तरीका सुधरता है।


तो बस यही थी हमारी आज की पोस्ट उम्मीद करता हूं कि आपको  आर्टिकल लिखने का तरीका/ Article kaise likha jaata hai नाम की ये  पोस्ट जरूर पसंद आई होगी।



कोई सवाल-सुझाव हो, तो कमेंट के माध्यम से जरूर बताइये और इस आर्टिकल को उन लोगों के साथ share जरूर करें, जिन्हें Blogging या Content Writing पसंद है। सोचोकुछनया से जुड़ने के लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद! (2024 Words)




📚 READ MORE POSTS:


• ब्लॉगिंग क्या है और इससे पैसे कैसे कमाते हैं?



   









Post a Comment

20 Comments

  1. Bro i love your post. You are fucking good man . Im from philliepines but im hindu philliepino. My friend told me about your article and then search about you. But you are really amazing your writing style������

    ReplyDelete
  2. Nice blog brother but i m Only say one thing your blog is to long so it makes people bor so next time pls make a short blog😇 so the people are stick easily

    ReplyDelete
    Replies
    1. Thankyou Gaurav bhai your kind words. I'll try to make my article next time as soon as possible. �� Visit again the next time and see the change

      Delete
  3. वो आपके बन loyal readers बन जाते हैं
    :इसका मतलब क्या हुआ?

    ReplyDelete
    Replies
    1. इसका मतलब है कि वो आपके राइटिंग स्टाइल से impressहो जाते हैं और वो बार बार आपकी पोस्ट पढ़ने आपके ब्लॉग पर आने लगते हैं।।

      Delete
  4. =a.contentWindow))if(T="",a.botguard){var b=a.botguard.bg;if(b)try{X(function(){U=new

    Ye kya hai??? Ye kyo show krra mujhe

    ReplyDelete
  5. bahut hi achchi aur upyogi jankari di hai aapne sir ji. mujhe lagta hai isase kaafi help milegi. dhanyawad

    ReplyDelete
    Replies
    1. शुक्रिया अखिलेश जी।। सोचोकुछनया के साथ ऐसे ही बने रहिये💓

      Delete
  6. Thanq so much..for your help..

    ReplyDelete
  7. write तो मैं अच्छे से करता हु लेकिन views नहीं आते। नए blog पर views कैसे लाएं ??? :(

    ReplyDelete
    Replies
    1. 1. अपने कंटेन्ट को forums, question-answer sites (as in Quora) पर उन लोगों के साथ promote कीजिए जिन्हें उसकी जरूरत है।

      2. अपने ब्लॉग का अच्छे से seo कीजिए।

      3. in depth पोस्ट लिखने की कोशिश कीजिए।

      4. और सबसे जरूरी बात अपनी साइट को authoritative बनाइये।

      Delete
  8. Replies
    1. SEO yaani wo activities jo ham google me top par rank krne ke liye krte hain..

      iske baaare mein hamne apne blog pr post likhi hai aap catagories se SEO select krke use pdh skte hain.

      Delete
  9. Hello brother,,,,design jarrori hai kya,,,,, kya iska paisa lagta hai?

    ReplyDelete
    Replies
    1. blogspot me blog ke design/templates aap free me le skte ho lekin wordpress.org me premium templates ke paise lgte hain.

      Delete
  10. please answer sir!, How do you insert a Hindi full stop (purn viram) after the sentence.

    ReplyDelete
    Replies
    1. इसके लिए आपके कंप्यूटर में हिन्दी phonetic का विकल्प होगा आप उसे सिलेक्ट करके फुल स्टॉप लिखेंगे तो उसमें आपको पूर्ण विराम (।) का विलप भी दिख जाएगा जिसे आप उपयोग कर सकते हैं। :)

      Delete

आपके कमेंट के लिए शुक्रिया. हम आपको जल्दी-से-जल्दी जवाब देने की कोशिश करेंगे!