Amazon Affiliate Link

header ads

ना कोई Ad, ना ही Fees, फिर भी कैसे कमा लेती है व्हाट्सएप? | How Does WhatsApp Earn Money in Hindi

कारोबार की दुनिया में जब भी कोई नई कंपनी Launch होती है तो ज्यादातर cases में उसके बनने का जो main motive होता है वो होता है– "लोगों को अपनी Services देकर पैसे कमाना."
बिजनेस से पैसे बना पाना कोई आसान काम नहीं होता। इसलिए पैसे कमाने के लिए लगभग हर कंपनी के पास अपना एक खास Well Designed Plan होता है जिसे कारोबार की भाषा में बिजनेस मॉडल (BUSINESS MODEL) कहा जाता है।



हर कम्पनी अपनी लॉन्चिंग के बाद अपने-अपने Business Model के हिसाब से काम करती है और अपनी Services से लोगों की help कर के अपना Revenue  बढ़ाती जाती है।



उदाहरण के लिए– फेसबुक का Business Model है, लोगों को एक-दूसरे से जोड़ना और फिर उन्हें उनकी पसंद के हिसाब से Ads दिखाकर, Ads देने वाली कंपनी से पैसे लेना।







आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि फेसबुक अपने users को Ads दिखाकर हरेक ID से करीब ₹500- 600/ साल कमा लेता है, जिससे Facebook की सालाना आय सन 2018 में लगभग $60 Billion (4000 अरब रुपये) को पार कर चुकी है।



गूगल, ट्विटर, लिंक्डइन, कोरा (Quora), इंस्टाग्राम, यूट्यूब, स्नैपचैट जैसे ज़्यादातर Popular Online Platforms का बिज़नेस मॉडल भी करीब-करीब Facebook के Advertising वाले BizModel के जैसा ही है।




इसके अलावा कुछ ऑनलाइन कंपनियों का Business Model होता है अपनी Premium Services का use करने वाले लोगों से directly पैसे लेना। इस तरह की कुछ बड़ी ऑनलाइन कंपनियां है– Amazon Prime, Netflix, Hotstar, Hulu etc



लेकिन क्या आप जानते हैं कि दुनिया के सबसे पॉपुलर Messaging Platform व्हाट्सएप्प (WhatsApp) का बिजनेस मॉडल क्या है? यानी WhatsApp किस तरीके का use करके पैसे कमाता है?


अगर आप WhatsApp चलाते हो तो मेरा आपसे एक सवाल है...


• क्या आपने अपनी ज़िंदगी में कभी भी व्हाट्सअप पे किसी भी तरह का कोई विज्ञापन (Ad) देखा है?



बिल्कुल नहीं!


• क्या आपने व्हाट्सएप्प चलाने के लिए कभी पैसे दिए हैं यानी कभी व्हाट्सअप का subscription खरीदा है?





अगर आप पिछले 3 सालों से WhatsApp चला रहे हैं तो ऐसा बिल्कुल नहीं हो सकता (क्योंकि Feb 2016 से WhatsApp दुनिया के हर एक व्यक्ति के लिए बिल्कुल FREE है.)



तो अब सवाल ये उठता है कि अगर व्हाट्सअप अपने Users से ना ही पैसे लेता है और न ही उन्हें Ads दिखाता है तो फिर वह आखिर पैसे कमाता है? आखिर उसका बिज़नस मॉडल है क्या?




जवाब है– " कुछ सालों पहले तक व्हाट्सएप्प Paid Subscription से पैसे कमाता था और आज सम्भवतः अपने विशालकाय DATABASE के माध्यम से कमाता है! इसके अलावा future के लिए भी उसके पास उसके पास कई बेहतरीन BizModel मौजूद हैं।



व्हाट्सएप्प ने समय के साथ साथ ही अपने बिजनेस मॉडल्स को भी बार-बार बदला है और इस बात की पूरी उम्मीद है कि आने वाले वक्त में और भी बार वह ऐसा जरूर करेगा.



व्हाट्सअप चलाने में जितना आसान है, यकीन मानिए उसके पैसे कमाने के तरीकों (Business Models) को समझ पाना उतना ही ज़्यादा Complex है। इसलिए हमने इस Article में WhatsApp के वक़्त-वक़्त पर बदलने वाले Business Plans को mainly तीन हिस्सों में divide किया है– Past, Present और Future, ताकि इन्हें आप Clearly समझ सके.




● व्हाट्सएप का बिजनेस मॉडल क्या है/ What is WhatsApp's Money Earning Business Model in Hindi







🕵️ WHATSAPP QUICK FACTS:
   
• स्थापना (Estd)- Nov 2009

• संस्थापक (founders)- Brian Acton & Jan Kaum

• मालिक कम्पनी (Parent Co)- Facebook Inc (Feb 2014 से)

• उपयोगकर्ता (Users)- 1.9 अरब (Global)

• सबसे बड़ा अधिकारी (CEO)- Chris Daniels



• मुख्य्यालय (HQ)- California, USA

• प्रतिद्वंदी (Competiters)- Hike, WeChat, Line, Skype, IMO, Telegram 

• Employees की संख्या- 50 (2017 में)



कभी इंटरनेट की दुनिया पर राज करने वाली कम्पनी याहू (YAHOO!) में काम करने वाले ब्रायन ऐक्टन (Brian Acton) और जेन कौम (Jan Kaum) ने करीब डेढ़ साल की कड़ी मेहनत और लम्बी Beta Testing के बाद Nov 2009 में WhatsApp को सबसे पहले Apple के App Store में launch किया।



शुरुआत से ही व्हाट्सअप के founders की एक बात काबिल-ए-तारीफ रही है, कि उन्होंने हमेशा अपने Users को पैसे से ऊपर रखा और लोगों को बिना किसी रुकावट वाला एक बहुत ही अच्छा Interaction Platform provide किया।




फेसबुक के संस्थापक Mark Zuckerberg ने अपने एक interview के दौरान कहा था कि WhatsApp को 11 खरब रुपयों जैसी बड़ी राशि में खरीदने के पीछे के सबसे बड़े कारणों में से एक था- इसका बहुत अच्छा User Engagement यानी यह फेसबुक के बाद सबसे अच्छा App था जिसपे लोग हर रोज़ घण्टों बिताना पसन्द करते थे.




                    • Courtesy- Scroll.in (full vid)



हालांकि अगर बिज़नेस मॉडल की बात करें तो WhatApp अपनी launching के एक दशक बाद तक यानी आज तक भी अपने लिए कोई Permanant BizModel नहीं बना पाया है। उसने अपने Lifetime में कई सारी Revenue Generating Strategies को अपनाया है और कईयों को भविष्य में अपनाने की सोच रहा है।





• कौन-कौन से हैं व्हाट्सएप के Business Models, चलिए जानते हैं–




1)• व्हाट्सऐप के 2009 से फरवरी 2016 तक के बिजनेस मॉडल्स (WhatsApp Former Business):



व्हाट्सअप की बढ़ती लोकप्रियता और यूजर डेटाबेस को देखकर नवंबर 2009 में लॉन्च हुए WhatsApp को 19 अरब डॉलर  (करीब 11 खरब रुपए) में फेसबुक ने फरवरी 2014 में खरीद लिया।



2009 से 2016 के इस time period में व्हाट्सएप ने हालांकि अपने खर्चों की तुलना में काफी कम पैसे कमाए लेकिन जितने भी काम आए वह mainly इन 3 तरीकों से कमाए–




A]• ऐप डाउनलोड करने से (Revenue by App Downloading)– 


आपको यह जानकर हैरानी हो सकती है कि जब भी हम App Store, Play Store, 9Apps या Up to Down से कोई App डाउनलोड करते हैं तो उस App के मालिक को Per Download पर लगभग $1 (65-70 रुपए) मिलता है और अब क्योंकि WhatsApp (WA) भी एक App ही है इसलिए इसे भी हर डाउनलोड पर औसतन $1 (जो अलग-अलग देशों में अलग-अलग भी हो सकता है) के हिसाब से payment मिलता है।



फरवरी 2016 (Facebook Acquisition) तक व्हाट्सएप के पूरी दुनिया में करीब 400 million यानी 40 करोड़ उपयोगकर्ता थे, यानी उसे 40 करोड़ बार download किया जा चुका था इसका मतलब WA ने अपने शुरुआती 6 सालों में (2009 से 2014 तक) Downloading से लगभग 40 करोड डॉलर कमाए जो कि WA की कमाई का एक छोटा-सा जरिया था। यह व्हाट्सएप्प का Evergreen Business Model है जिससे यह App आज भी बहुत कम ही सही मगर revenue generate करता है।








B]• यूज़र्स से Fees लेकर (Revenue by Subscription)–


अगर आप पिछले 5-6 सालों से व्हाट्सअप चला रहें हैं, तो आप यह जरूर जानते होंगे कि Feb 2016 से पहले व्हाट्सएप्प FREE नहीं बल्कि एक PAID App था।



ios को छोड़कर सारे Operating Systems (जैसे- Android, Blackberry) के users के लिए यह एक साल तक बिल्कुल free था लेकिन एक साल के बाद उनसे करीब $0.99 (तब करीब 55 रुपए) सालाना charge किये जाते थे।



आई-फोन (i Phone) उपयोगकर्ताओं को App Store से व्हाट्सअप को install करते वक़्त ही 0.99 डॉलर देने पड़ते थे, उनके लिए FREE का कोई plan नही था; क्योंकि उनमें से ज़्यादातर लोग अमीर होते हैं जो इतनी fees आसानी से pay कर सकते थे।



माना जाता है कि इस तरीके से अपने users से फीस लेकर WhatsApp ने Lifetime में करीब 1 Billion डॉलर यानी 60 अरब रुपए से भी ज़्यादा का revenue  कमाया।


शुरुआती दिनों में यह तरीका WA के लिए बहुत काम का रहा, लेकिन अब क्योंकि फरवरी 2016 के बाद दुनिया के हर आदमी के लिए यह एप पूरी तरह मुफ्त है, इसलिए WhatsApp का यह Business Model अब वजूद में नहीं है।









C]• उधार लेकर (Through Venture Capital)–


हालांकि इस तरीके से व्हाट्सअप ने पैसे तो नहीं कमाए लेकिन उसने loan के पैसों से अपनी Service और  Business को और भी बेहतर बनाया।







अमेरिका की दिग्गज पैसा लगाने वाली कम्पनी (Investing Company) सिकोलिया कैपिटल्स (Sequoia Caps) ने दो बार (2011 व 2013 में) WhatsApp की popularity को देखकर पैसा लगाया, जिसका लगभग 50 गुना ज्यादा पैसा उसे Return में मिला!


आज व्हाट्सअप Facebook Inc के under में चलती है, इसलिए उसके पास पैसे की कोई तंगी नहीं है, लेकिन जिस समय छह शुरू हुआ था, उस वक़्त इसके पास पैसे की भारी कमी थी, जिस इसके founders और investors ने मिलकर पूरा किया।


 यह तो था व्हाट्सएप का पुराना बिजनेस मॉडल, जिसे Facebook Inc ने 2016 में व्हाट्सएप को Free Service बनाकर change कर दिया था।


लेकिन क्या आप इस बात की वजह बता सकते हो कि जब WhatsApp साल भर में 20 अरब रुपए कमा रहा था तो फेसबुक को उसे 11 खरब रुपे रुपया खर्च करके खरीदने की क्या जरूरत थी. फेसबुक को अपना खुद का घाटा कराने की क्या जरूरत थी?


वो कहते हैं ना कि–



कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है.



यही फेसबुक ने किया है और अभी भी यही कर रहा है लेकिन कैसे?


व्हाट्सएप को free बनाकर फेसबुक कंपनी भविष्य में किसी बड़े प्लान पर काम कर रही है लेकिन भविष्य देखने से पहले जरा जान लेते हैं कि वर्तमान समय में व्हाट्सएप आखिर पैसे कमाता कैसे है–








2)• व्हाट्सएप का वर्तमान बिजनेस मॉडल (WhatsApp Current Business Models) : 2016-19


व्हाट्सअप currently तीन तरीको से पैसे कमाता है-


A]• ऐप डाउनलोड से– इसके बारे में हम पिछले point में बात कर चुके हैं।



B]• व्हाट्सएप बिजनेस एप से (By WhatsApp Biz App)–


Whatsapp ने फरवरी 2018 में छोटे व्यापारियों के लिए एक special app लांच किया था, जिसे उन्होंने WA Business नाम दिया था।



इस App से छोटे कारोबारी अपने customers से सीधे Whatsapp के माध्यम से जुड़ सकते हैं और अपना Business बढ़ा सकते हैं।



यह App अभी हालांकि पूरी तरह से free है यानी Whatsapp कम्पनी अभी इससे पैसे नही कमा रही है, लेकिन इस बात की पूरी उम्मीद है कि आने वाले समय में यह App कम्पनी के लिए तुरुप का इक्का साबित होगा।




C]• डाटा का use दूसरी Services में करना (By Using Data)–


इस बात पर लोगों में मतभेद है कि फेसबुक कम्पनी ने WhatsApp को 19 Billion Dollar जैसी बडी रकम (जो कि NASA के सालाना बजट से भी ज़्यादा है) में किस कारण से खरीदा? 








माना जाता है कि facebook inc का व्हाट्सअप को खरीदने के पीछे जो सबसे बडा काऱण था, वो था– "इसका पूरी दुनिया में फैला User Network और विशालकाय Database.



वैसे तो WhatsApp Messages पूरी तरह  है यानी उन्हें भेजने वाले और recieve करने वाले के सिवाय कोई नहीं पढ़ सकता है। लेकिन फिर भी कहा यह जाता है कि व्हाट्सअप आपके द्वारा भेजे गए messages, Location, Photos, Links, Audio-Video Calls, Status-Story etc डाटा को फेसबुक के साथ शेयर करता है।



ऐसा माना जाता है कि Facebook में इस डाटा को process करने का काम बहुत ही Advanced मशीनों के द्वारा किया जाता है। ये मशीनें आपके डाटा (messages, location..) के आधार पर आपको आपकी जरूरत की और पसंद आने वाली चीजों का अंदाजा लगाती है और फेसबुक को इसकी जानकारी देती है।



अब फेसबुक आपके Whatsapp Number से बनी Facebook IDपर आप की जरूरत और पसंद के हिसाब से Ads दिखाने शुरू कर देता है जिससे वह और भी ज्यादा पैसे बनाने लगता है।



NB: यह सिर्फ एक अनुमान है फेसबुक ने कभी भी इस बात की पुष्टि नहीं की है कि वह व्हाट्सएप डेटा को फेसबुक पर use करके पैसे कमाता है।



इसके अलावा फेसबुक कंपनी व्हाट्सएप की सालाना कमाई (Annual Revenue) को अलग से नहीं दिखाती है बल्कि Facebook, WhatsApp और Instagram तीनों की पूरे साल भर की कमाई को साथ में दिखाती है।


आपने देखा कि जब भी हम अपने WhatsApp Number से कोई फेसबुक अकाउंट बनाते तो उसमें हमारे व्हाट्सएप के सारे Contacts आ जाते हैं। और यह भी संभवतः फेसबुक आपके व्हाट्सएप डाटा के आधार पर ही करता है।



अब तक हम जान चुके हैं कि व्हाट्सएप पुराने समय और वर्तमान समय में किन तरीकों से पैसे कमाता था और कमाता है?


हालांकि इन तरीकों से व्हाट्सएप आज तक उतना बिजनेस नहीं कर पाया है जितना करने का वह हकदार है।


व्हाट्सएप के पास भविष्य में बड़ी कमाई करने के लिए कई सारे शानदार Business Models मौजूद हैं जिनमें से कुछ सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण BizModel कुछ इस तरह हैं–



3)• व्हाट्सएप के भविष्य के बिजनेस मॉडल्स (Futuristic WhatsApp Biz Models):




A]• Customers को सीधे Comapny से जोड़ना (Business Platform)-


बहुत सारी कंपनियां होती है जो अपने ग्राहकों की जरूरतों को सही से समझ नहीं पाती, यानी यह estimate नहीं कर पाती है कि आखिर उसके Customers उससे चाहते क्या हैं? और इस mis understanding के सबसे बड़े कारणों में से एक कारण होता है–"कंपनी और ग्राहकों के बीच बातचीत की भारी कमी" (Lake of Communication)







इसी बात को ध्यान में रखकर व्हाट्सएप्प एक नया feature लाने की तैयारी कर रहा है, जिससे व्हाट्सअप के द्वारा Verified Companies (✅) अपने Customers से सीधे Chat कर पायेगी औऱ उनके लिए बिज़नेस करना आसान हो जाएगा। 



इसके लिए उन कम्पनियों को WhatsApp को काफी पैसा देना पड़ेगा जिससे व्हाट्सअप अच्छा revenue generate कर सकेगा।



पिछले साल व्हाट्सएप इस feature का परीक्षण (Beta Testing) भी कर चुका है, जिसमें KLM और AirMexico जैसी बड़ी Airline Companies ने शिरकत की थी। उम्मीद है, कि जल्द ही यह feature व्हाट्सअप में आ जायेगा।



B]• व्हाट्सएप को Payment App के रूप में उभारना (P2P Payment)-



जमाना बदल गया है–



आज लोग पैसा पर्स में नही, Mobile में लेके घूमते हैं.


इसी बात को जेहन में रखकर WhatsApp, भारत जैसे विकासशील देशों में एक ऐसा फीचर launch करने वाला है जिससे कि लोग अपने व्हाट्सएप अकाउंट को Bank Account से link करा कर व्हाट्सएप को एक Payment App के जैसे भी उपयोग कर सकेंगे जैसा कि हम अभी Paytm, PhonePe और Google Pay को यूज़ करते हैं।



व्हाट्सएप इस नए फीचर की Beta Testing भी कर चुका है और अब वह इसे launch करने की तैयारी है। इस feature के व्हाट्सअप से जुड़ जाने के बाद व्हाट्सएप के Revenue में बड़ा उछाल आने की पूरी संभावना है क्योंकि व्हाट्सएप के पास पहले से ही बहुत बड़ा Userbase है और साथ ही साथ व्हाट्सएप एक reliable app भी है।



तो जब लोग व्हाट्सएप से Payment करेंगे (जैसे- Ticket Book करेंगे, Bill pay करेंगे) तो व्हाट्सअप उनसे कुछ रुपए Charge/Commision कर लेगा और इससे व्हाट्सएप की आय बढ़ेगी।




NOTE: व्हाट्सएप Payment Feature को सिर्फ विकासशील देशों (Developing Countries)  में ही लांच करने की सोच रहा है क्योंकि इन देशों में Mobile Wallet में बहुत ज्यादा competition नहीं है या फिर कुछ देशों में यह trend हाल ही के कुछ सालों में शुरू हुआ है।




वहीं अगर अमेरिका, कनाडा जैसे विकसित देशों (Developed Countries) की बात करें तो वहां पे-पैल (PayPal) जैसा Giant P2P Brand  पिछले दो दशको से स्थापित है जिससे Competition करना व्हाट्सएप के लिए आसान नहीं है। इसलिए WhatsApp Peer To Peer Payment फीचर को सिर्फ विकासशील देशों में ही launch करने की तैयारी कर रहा है।






C]• व्हाट्सअप को फेसबुक और इंस्टाग्राम से जोडना (Integrating WA, FB & IG)- 


फेसबुक अपनी तीनों Services (FB, WA & IG) को integrate करने पर काफी काम कर रहा है same वैसे ही जैसे गूगल already यह कर चुका है।


हाल ही में खबर आई थी कि Facebook Inc अपने तीनों प्लेटफॉर्म्स को एक साथ जोड़ने पर काम कर रहा है जिससे कि लोग व्हाट्सएप से फेसबुक और इंस्टाग्राम पर अपने friends को मैसेज कर सके और फेसबुक, इंस्टाग्राम से व्हाट्सएप के Contacts को।



इसके अलावा फेसबुक अपने Marketplace फीचर को भी WhatsApp से कनेक्ट करने की योजना बना रहा है ताकि वह ताकि वह व्हाट्सएप Users को बिना ads दिखाए भी अपना बिजनेस बढ़ा सके।



Overall, फेसबुक कम्पनी व्हाट्सअप के डेटा का use करके अपने दुसरे platforms पर ad show करके अपना revenue बढाने का try कर रही है।



तो दोस्तों, ये तो थे WhatsApp के तीन main futurestic BizModels. इनके अलावा कुछ और भी छोटे-छोटे plans हैं जिनपे facebook inc भविष्य में विचार कर सकती है-



• WhatsApp Business App के माध्यम से भविष्य में पैसे कमाना (हालांकि अभी यह पूरी तरह free है.)








🕵️  CURIOUSITY CORNER:



• व्हाट्सअप वर्तमान समय में पैसे कैसे कमाती है?


⇰ हालांकि यह बात पूरी तरह से proved नहीं है, लेकिन फिर भी ज़्यादातर Experts मानते हैं कि व्हाट्सअप currently हमारे Data को facebook, instagram को देता है ताकि वो हमें appropriate ads दिखा सके जिससे उसका business बढ़ सके। आज की date में यही whatsapp का main earning source है।




• व्हाट्सअप में इनक्रिप्शन (Encryption) क्या होता है?


⇰ Encryption का मतलब होता है कि आपने जो message भेजा है, वो आपके और reciever के सिवाय बीच में कोई दूसरा नही पढ़ सकता है। यानी WhatsApp में जो आप message भेजते हो, वो ना तो आपकी Sim Company (ISP) वाले पढ़ सकते हैं और ना ही WhatsApp कम्पनी खुद आपके messages को पढ़ सकती है.




• व्हाट्सअप का भविष्य कैसा हो सकता है?


⇰ व्हाट्सएप की बेहतर सेवाओं और बडे User base को देखकर आज हम कह सकते हैं कि इसका भविष्य काफी उज्ज्वल होने वाला है और यह facebook inc की सबसे बड़ी Subsidiary बनने के पथ पर अग्रसर है!




ℹ️  AUTHORS' ANGLE: 


कुल मिलाकर कहा जाय तो बहुत ज़्यादा बेहतर सेवा होने के के बावजूद भी WhatsApp आज तक उतना ज़्यादा Business नही कर पाया है जितने का वो हकदार है।



हालांकि भविष्य की खातिर उसके पास एक से बढ़कर एक शानदार Business Strategies मौजूद हैं, जिनके दम पे वह Revenue के मामले में बड़ी-बड़ी दिग्गज कम्पनियों को पछाड़ सकती है।



तो दोस्तों, यही था आज था Article. उम्मीद करता हूँ आपको ये पसन्द आया होगा।



इस Post से सम्बंधित आपका कोई सवाल या सुझाव है तो आप हमें नीचे Comment के माध्यम से बता सकते हैं। इसके अलावा, आप इस post को अपने उन दोस्तों के साथ Share कर सकते हैं, जो Entreprenuership और Internet जैसी चीजों को explore करना पसंद करते हैं. ☺️



📚 READ MORE POSTS:

• 9 बातें– जो हर Entreprenuer व्हाट्सएप कम्पनी की सफलता से सीख सकता है


   
• 8 बातें– जो हर Entreprenuer फेसबुक कम्पनी से सीख सकता है


• गूगल कम्पनी से सीखी जा सकने वाली 10 बातें


 इंटरनेट को अपना प्रोफेशन बनाने के 5 बड़े रास्ते


• कैसे बनाएं अपनी ऑनलाइन प्रोफाइल को और भी ज़्यादा आकर्षक


•10 बातें- जो हर Entreprenuer गूगल कम्पनी से सीख सकता है


• पासवर्ड भूलने की tension अब भूल जाइए, इस Coding Pattern से बनाइये अपने सारे Internet Accounts के paswords सुरक्षित।

Post a Comment

0 Comments