नए साल 2019 के लिए कैसे तय करें अपना लक्ष्य

दोस्तों सबसे पहले तो आपको 'सोचोकुछनया' की तरफ़ से एक - "Happy New Year!"


दोस्तों, नया साल आ गया है और हममें से हर कोई इसे अपने तरीके से मनाने की तैयारी भी कर चुका है। कोई दोस्तों के साथ Party करने की तो कोई ज़िन्दगी को एक नई शुरुआत देने की.


                image source- Entrepreneur.com

नए साल के मौके पर हम सब मे एक नया जोश,नया उत्साह होता है। साथ ही नए लक्ष्य और उन्हें पूरा करने की रणनीति भी हम बनाते हैं। हम नए संकल्प लेते हैं और नई उमंग के साथ उन्हें पूरा करने की भरसक कोशिश भी करते हैं। लेकिन इतना सब कुछ कर लेने के बाद भी हम में से अधिकांश लोग कहीं ना कहीं चूक से जाते हैं या कहें कि संकल्पों का जोश कहीं खो- सा जाता है।

 परंतु यदि कुछ Points को ध्यान में रखकर आने वाले साल के लिए लक्ष्य निर्धारित किये जायें तो उन Goals के Reality बन जाने के Chances काफी बढ़ जाते हैं। तो चलिए जानते हैं इन्ही New Year Goals को हकीकत बनाने से सम्बंधित कुछ महत्वपूर्ण बातों के बारे में-



• नववर्ष के लिए क्या, क्यों और किस तरह से लें प्रण


• A Whole Resolution Hindi Guide for New Years' Goals & Determinations


• Naye Saal Ke Liye Kya, Kyo Aur Kaise Lakshya Nirdharit Karein Hindi Me





✴️ माना जाता है कि नए साल के मौके पर Goals सेट करने की परंपरा ही शुरुआत आज से लगभग 4000 साल पहले मेसोपोटामिया (आधुनिक इराक़) में हुई थी!





1)• संकल्पों का महत्व या जरूरत समझिए (Understand Importance or Need of Resolutions):


किसी भी काम को अच्छे से करने के लिए, सबसे पहले उसे अच्छे से समझने की जरूरत होती है। संकल्प या कहें लक्ष्य भी कुछ इसी तरह होते हैं। संकल्प लेने से पहले हमें ये समझना होता है कि हम वर्तमान में कहां खडे हैं। जिस क्षेत्र से सम्बंधित लक्ष्य हम बना रहे हैं उस क्षेत्र में हम किस स्तर पर हैं; वर्तमान में हमारी योग्यता  क्या हैं आदि।

लक्ष्य निर्धारित करते समय हमारा मन खुला होना चाहिए। उसमे एक ताज़गी होनी चाहिए, ताकि किसी चीज़ के बारे में एक तरफा होने के बजाय हर Angle से सोचा जा सके और बेहतर परिणाम प्राप्त हो सकें।

नववर्ष और अन्य त्योहारों के अवसर पर हमारा मन भी कुछ ऐसी ही स्थिति में होता है- बिल्कुल खुला-खुला-सा, बिल्कुल फ्रेश! जिससे इन मौकों पे प्रायः हम खुले दिमाग के साथ विचार कर पाते हैं। इसी कारण से ही तो इन पावन अवसरों पर 'प्रण' लेने की परंपरा वर्षों से चली आ रही है।


2)• किस तरह से निर्धारित करें अपने नववर्ष लक्ष्य (How to Set New Year Targets in Hindi):


कई सारे लोग उत्साह में आकर नए साल के मौके पर ढेर सारे Targets बना लेते हैं जिसके कारण उनका ध्यान किसी एक लक्ष्य पे टिक नहीं पाता है और अंत में वे किसी भी लक्ष्य को पूरी तरह हासिल करने में असफल रहते हैं।

लक्ष्य निर्धारित करते समय हमें अपनी वर्तमान स्थिति के बारे में एक बार जरूर विचार कर लेना चाहिए। हमें यह भली-भांति समझ लेना चाहिए कि जिस चीज़ से सम्बंधित प्रण हम लेने जा रहे हैं उसके बारे हमें अभी, वर्तमान समय में हमें कितना आता है?

उदाहरण के तौर पर- यदि कोई विद्यार्थी अपनी वर्तमान कक्षा में TOP करने का लक्ष्य बनाना चाहता है, तो उसे सर्वप्रथम यह आकलन कर लेना चाहिए कि अभी उसने वास्तव में कितना पढा है। उसे कितना आता है और उसे अभी कितना और पढ़ने की जरूरत है!

साथ-ही-साथ लक्ष्य हमारी पसन्द के भी होने चाहिए; उन्हें पूरा करने में वास्तव में हमारी रुचि होनी चाहिए। इसके अलावा संकल्पों की list जितनी छोटी हो, उतना ही अच्छा रहेगा। हो सके तो 2 या 3 Resolutions ही लें और उन्हें ही पूरी ईमानदारी के साथ पूरा करने में जुट जाएं।




3)• कुछ सामान्य संकल्प (Some Common Resolution List):


[A]. सुबह जल्दी उठने की आदत डालना (Being An Early Riser)- यदि आप भी मेरी तरह पिछले कई सालों से सुबह जल्दी उठने की सोच रहे हैं तो यह साल सही समय है इस सोच को हकीकत बनाने का.👍


[B]. व्यायाम करना (Do Exercise)- आप चाहें तो नए साल के पहले ही दिन से अपने अपने शरीर को एक नया उत्साह देने का प्रयास सकते हैं।

-
[C]. नॉनवेज खाने से दूरी (Being Vegetarian)- एक अनुमान के मुताबिक, दुनियाभर में हर साल मांस के लिए अकेले 50 अरब+ मुर्गों को मारा जाता है। इसलिए नए साल के मौके पर मेरी सलाह तो है की आप इन बेजुबान प्राणियों की हत्या के भागीदार ना बनें। इसके बारे में ज़्यादा जानने के लिए यहां पढ़ें.


[D]. प्रोफेशनल लक्ष्य [Professional Goals]- इस साल अपनी डायरी पर अपने Business या अपनी Job के लक्ष्य लिखें। वो सभी चीज़ें नोट करें, जो आप चाहते हैं कि आने वाले साल में आप Achieve करें। उदाहरण के लिए, आप Target कर सकते हैं कि इस साल मैं इतनी मेहनत करूंगा कि मेरी Sallery 200% बढ़ जाये।


[E]. इंटरनेट का कम उपयोग (Leave Overusing Internet Habit)- अगर आप बहुत ज़्यादा फ़ोन चलाते हैं तो आप इस साल फोन को कम से कम उपयोग करने का संकल्प भी जरूर लें।


• Read Rec: फ़ोन पे कौन-सी चीज़े करें और कौन -सी नहीं, जानिए इस article से



[F]. ज़्यादा सामाजिक बनना [Being Social]- Individually मैं बहुत ही ज़्यादा असमाजिक प्राणी हूँ और यदि इस मामले में आप भी बिल्कुल मेरी तरह ही हैं तो इस साल की अपनी Resolution List में इस point को शामिल करना बिल्कुल मत भूलिएगा।



• अपनी डायरी पे लिखे इन नोट्स को जब आप कुछ महीनों बाद देखेंगे तो आप आसानी से अपनी स्थिति का आकलन कर पाएंगे, कि क्या आपने जो सोचा था वह हुआ? हुआ तो कितना हुआ और नहीं हुआ तो क्यों नहीं हुआ! याकि। मानिए इस तरह खुद से सवाल करके आप अपने भविष्य के लिए बहुत बड़ी सीख ले पाएंगे.



4)• संकल्प लेने के कुछ फायदे (Benefits of Resolving in Hindi):


संकल्प करने से हम कहीं-ना-कहीं, किसी-ना-किसी रूप में उस लक्ष्य से बंध ही जाते हैं, जो वास्तव में हम पूरा करना चाहते हैं। संकल्प लक्ष्य पूरण में आने वाली बाधाओं को दूर कर देता है और हमें लक्ष्य से भटकने से रोकता है। जब हम अपने लक्ष्य से कोई बाहर का काम करते हैं, तो संकल्प हमें हमारे लक्ष्य की याद दिलाता है।


कई शोधों के द्वारा यह सिद्ध हो चुका है कि दृढ़ निश्चय कर लेने से हमारी कार्यक्षमता (Productivity) कई गुना बढ़ जाती है। जिससे हम अपने कामों को और ज़्यादा efficiently करने लगते हैं।



5)• निश्चयों पर टिके रहने से सम्बंधित कुछ जरूरी बातें (Tips for Completing Your Determination):


[1]. संकल्पों पे टिके रहने के लिए उनमें रुचि होना बहुत ज़्यादा आवश्यक है, इसलिए संकल्पों में हमेशा रुचि बनाये रखें। अगर किसी कारणवश उनमें interest कुछ कम होने लगे तो अपने सोचने ओर काम करने का तरीका बदल दीजिये। यकीन मानिए, ऐसा करने से काम में मन लगना शुरू हो जाता है।

[2]. प्रण कम ही लें लेकिन जितने भी लें उन्हें मन से पूरा करने का प्रयास करें।

[3]. लक्ष्यों को Steps में तोड़कर बनाने की कोशिश करें। छोटे-छोटे स्टेप्स में Goal Set करने से उनके पूरे होने की possibility ज़्यादा हो जाती है जिससे आत्मविश्वास बढ़ता है।

उदाहरण के तौर पर- यदि आपको कक्षा में अव्वल आना है तो आप पहले Class Test में अव्वल आने की सोचिये, फिर अर्धवार्षिक (Half Yearly) में और उसके बाद अंततः वार्षिक (Annual) परीक्षा में अच्छे अंक पाने का लक्ष्य निर्धारित करें।


• Read Rec: पढ़ाई में मन लगाने का एक Natural तरीका



[4]. अपने Goals को डायरी में बंद करके ही ना रखें बल्कि उन्हें हमेशा अपनी आंखों के सामने किसी खुली किताब के जैसे रखें। खाली समय में बेकार की चीज़ों के बारे में सोचकर टेंशन मोल लेने के अपने टारगेट्स पर विचार करें और अपनी सोच को एक सकारात्मक रूप दें।

[5]. हरेक व्यक्ति की बात को ज़्यादा गंभीरता से न लें, स्वयं में विश्वास रखें तथा लगे रहिये. ✌️



ℹ️  AUTHORS' ANGLE: 


मुझे व्यक्तिगत रूप से लगता है कि लक्ष्य बनाने और उनके अनुसार ठीक से काम करने से हम बहुत जल्दी Grow कर जाते हैं। Even आपको खुद भी विश्वास नहीं होता हैं कि आप ये कैसे कर गए! इसलिए इस वर्ष आप भी अपने लिए लक्ष्य निर्धारित कीजिये। साल भर अपने सपनों को जिये और उनके प्रति पूरी तरह समर्पित होकर कार्य करें।

अंत में एक बार फिर आपको नववर्ष की ढेर सारी शुभकामनाएं. आने वाला वर्ष आपके जीवन लिए मंगलमय हो।

____________________________________

• Also Read :


• Internet पे मौज़ूद Up-to-date knowledge के 5 बड़े platforms, जिन पर आपका account ज़रूर होना चाहिए


• कैसे बनाएं अपनी ऑनलाइन प्रोफाइल को और भी ज़्यादा आकर्षक 


• ब्रह्मांड की हैरान कर देने वाली 20 बातें. 


______________________________________________



📧 अगर आपका इस article से related कोई सवाल, सुझाव या doubt है तो आप हमें नीचे दिए गए Comment Box में पूछ सकते हैं. हम जल्द-से-जल्द आपको जवाब देने की प्रयास करेंगे।


Post a Comment

0 Comments